हिंदी विवेक : we work for better world...

 

भारत और श्रीलंका के बीच खेले गए तीसरे टी २० मैच में दो फेरबदल किये गए थे. पहला, जसप्रीत बुमराह के स्थान पर मोहम्मद सिराज और दूसरा, युजवेंद्र चहल के स्थान पर वाशिंगटन सुन्दर. इसी के साथ सुन्दर देश के सबसे काम उम्र में डेब्यू करने वाले( १८ साल, ८० दिन ) टी २० खिलाड़ी बन गए. इससे पहले यह रिकॉर्ड ऋषभ पंत( १९ साल, १२० दिन ) के नाम था. पिछले सीजन में वाशिंगटन सुन्दर राइजिंग पुणे की ओर से खेले थे जिसमें उन्होंने २२ अप्रैल को सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ अपना पहला मैच खेला था. आईपीएल में खेलते हुए उन्होंने ११ मैचों में मात्र 9 रन बनाये थे जबकि ८ विकेट लिए थे, जिसमें उनका सर्वोच्च प्रदर्शन १६/३ रहा. वाशिंगटन केवल एक ही कान से सुन पाते हैं. जब वे ४ साल के थे तो उनके पिता को इस कमी के बारे में पता चला तथा उन्होंने काफी इलाज भी करवाया पर हर बार डॉक्टरों की एक ही सलाह मिली कि यह लाइलाज है. नाम सुनने के बाद कुछ लोगों को लगता है कि उनके परिवार वालों का अमेरिका के राष्ट्रपति जार्ज वाशिंगटन से कोई नजदीकी नाता रहा होगा पर ऐसा कुछ नहीं है. दरअसल बचपन में उनके पिता की आर्थिक स्थिति काफी खराब थी. उनके गुरु और मेंटर जो कि वाशिंगटन सरनाम वाले थे, ने स्कूल की फीस से लेकर हर संभव सहायता की थी. आगे चलकर उन्होंने अपने गुरु को श्रद्धांजलि देने हेतु अपने बेटे का नाम ही वाशिंगटन रख दिया. उनका वन डे डेब्यू भी इसी सीरीज में हुआ था जब चोटिल केदार जाधव की जगह पर तमिलनाडु का यह आलराउंडर जगह पा सका था. उस मैच में उन्होंने अपने १० ओवर के स्पेल में ६५ रन दिए तथा १ विकेट भी लिया. पर उस मैच में उन्हें बैटिंग का अवसर नहीं मिल पाया.
 

आपकी प्रतिक्रिया...

Close Menu