हिंदी विवेक : we work for better world...

 
व्हाट्सएप (whatsapp), यह एक सॉफ्टवेयर एप्लिकेशन है जिसका प्रमुख उद्देश्य संदेशों का आदान प्रदान करना है। किसी भी स्मार्ट फोन पर गूगल प्ले स्टोर या विंडोज से यह बिना किसी भुगतान के डाउनलोड किया जा सकता है। हमें जिस व्यक्ति को संदेश भेजना है उसका मोबाइल नम्बर ‘व्हाट्सएप’ पर रजिस्टर होना चाहिए। इस शब्द का उद्गम अंग्रेजी के “what’s up” से है। इसका अर्थ है, ‘क्या चल रहा है?’ इस नाम में ही उसका मूल उद्देश्य समाहित है। ‘व्हाट्सएप’ ने अनेकों को आपस में जोड़ने, मित्रता, उद्योग को बढ़ाने तथा कई-कई घंटे समय बिताने का साधन उपलब्ध कराया है। इसकी उपादेयता की अपेक्षा इसके बुरे परिणामों की चर्चा ही ज्यादा होती है। मन का संयम रखने से ‘व्हाट्सएप‘ सरल, समय, गतिशील एवं परिणामकारक संवाद रखने का साधन है।
 
जान कॉप और ब्रायन एक्टन इन दो मित्रों ने २००९ में व्हाट्सएप का निर्माण किया। ‘याहू’ कम्पनी की नौकरी छोड़ कर इन दोनों ने ‘फेसबुक’ में नौकरी हेतु आवेदन किया जो स्वीकार नहीं हुआ। नौकरी से मुक्त होने के कारण मुक्त विचारों के लिए आसमान खुला हो गया। ‘एपल’ कम्पनी नई-नई कल्पनाओं के साथ नए सॉफ्टवेयर एप बनाने वालों को प्रोत्साहन दे रही थी एवं इस कारण भविष्य में नए एप्स के लिए अच्छा बाजार मिलने की संभावना थी। एलेक्स फिशमैन और इगोर सोलोयेनिकोव जैसे नए मित्रों की सहायता से आईफोन पर चलने वाले इस नए एप का निर्माण इस चौकड़ी ने किया। अथक परिश्रम से, सतत नए-नए सकारात्मक सुधारों के साथ आज व्हाट्सएप का यह रूप हमारे सामने है।
 
जान कॉम (जन्म सन् १९७६) आज व्हाट्सएप कम्पनी के संस्थापक सीईओ हैं एवं उनके पास कम्पनी की ८५% भागीदारी है। सन २०१४ की फोर्बस् की सूची में पहले चार सौ अमेरिकन धनाढ्यों में जॉन कॉम का ६२ वां स्थान था। मई १९१६ में जॉन कॉम ९.७ बिलियन डॉलर की संपत्ति के मालिक थे। जिस ‘फेसबुक’ कम्पनी को जॉन कॉम को नौकरी देना स्वीकार नहीं था उसीने ‘व्हाट्सएप’ को १९ बिलियन डॉलर का ऑफर देकर खरीद लिया। जॉन कॉम का जन्म यूक्रेन के कीप नामक गांव में हुआ था। उनके जन्म के समय वहां बिजली भी नहीं थी। गांव की एक दुकान में साफसफाई का काम कर वे उदर निर्वाह करते थे। सामान्य प्रोग्रामर से अरबों की संपत्ति वाला एक उद्योग सम्राट चार से पांच वर्षों में बना जा सकता है, यह जॉन कॉम ने विश्व को दिखा दिया। यदि आपके पास कोई नवीन कल्पना है एवं उसके माध्यम से यदि जनता के काम सकारात्मक रुप से सहज हो सकते हैं तो यह संसार आपको प्रसिद्धि, समृद्धि एवं सफलता के शिखर पर विराजमान करता है। यह सच्चाई जॉन कॉम की उपलब्धि से अधोरेखित होती है।
 
व्हाट्सएप से संबधित महत्वपूर्ण आकड़े
-विश्व में इसका उपयोग करने वालों संख्या १.५ बिलियन है।
-व्हाट्सएप ग्रुपों की संख्या-१ बिलियन
-रोज इसका उपयोग करने वाले व्यक्ति-१ बिलियन
-भारत में इसका रोज उपयोग करने वाले व्यक्ति-२०० मिलियन
-चीन में इसका रोज उपयोग करने वाले व्यक्ति-२ मिलियन
-विश्व में व्हाट्सएप से रोज होने वाले वॉयस काल्स की संख्या-१०० मिलियन
-विश्व में व्हाट्सएप से रोज होने वाले वीडियो कॉल्स की संख्या-५५ मिलियन
-कुल उपयोगकर्ताओं में ७०% लोग वीडियो कॉल प्रति माह करते हैं।
-रोज भेजे जाने वाले संदेशों की संख्या-६० बिलियन
-रोज भेजे जाने वाले फोटो (चित्रों) की संख्या-४.५ बिलियन
-रोज भेजे जाने वाले वीडियो संदेशों की संख्या-१ बिलियन
-व्हाट्सएप का सर्वाधिक ‘व्यस्त समय’ था ३१ दिसम्बर २०१७ की शाम। भेजे गए संदेशों की संख्या-७५ बिलियन
-व्हाट्सएप का उपयोग करने वाले देशों की संख्या १८०।
-१२ देशों में प्रतिबंध है।
व्हाट्सएप से निम्ललिखित काम सरल होते हैं
 
१) विश्व के अनगिनत व्यक्तियों से संपर्क एवं अमर्यादित संदेशों का प्रेषण।
 
२) इंटरनेट पर उपलब्ध ६० से अधिक भाषाओं में टाइप किए हुए शब्द, चित्र, किसी से संपर्क का विवरण, लोकेशन, वॉयस नोट, ऑडियो, वीडियो, वेब लिंक्स, पीडीएफ, वर्ड एक्सेल इ. फाइल्स एक विशिष्ट मर्यादा एवं एक विशिष्ट साइज में भेज सकते हैं।
 
३) इंटरनेट से फोन कॉल और वीडियो कॉल कर सकते हैं।
 
४) रिश्तेदार, मित्र परिवार या किसी एक विशिष्ट उद्देश्य के साथ एकत्रित व्यक्तियों का ग्रुप तैयार कर सकते हैं। इस प्रत्येक ग्रुप के एक या अनेक संचालक हो सकते हैं जिन्हें एडमिन कहा जाता है। एडमिन ग्रुप के अधिकतर व्यवहार नियंत्रित कर सकते हैं। नए व्यक्तियों को ग्रुप में शामिल करना या वर्तमान में से किसी को निकालने का अधिकार ग्रुप एडमिन के पास होता है। ग्रुप के किसी भी व्यक्ति द्वारा ग्रुप में भेजा गया संदेश ग्रुप में अपडेट होता है एवं ग्रुप के सदस्यों के मोबाइल में वह प्रदर्शित होता है। वर्तमान में एक ग्रुप में २५६ व्यक्ति (अधिकतम सीमा) हो सकते हैं अर्थात एक व्यक्ति द्वारा भेजा गया संदेश तुरंत २५६ व्यक्तियों तक पहुंचता है।
 
५) अपने मोबाइल की संपर्क सूची में आप व्हाट्सएप पर रजिस्टर व्यक्तियों की एक या अधिक ब्राडकास्ट लिस्ट तैयार कर सकते हैं। विशिष्ट उद्देश्य से भेजे जाने वाले संदेश विशिष्ट व्यक्तियों को एकसाथ एक क्लिक पर भेजने की उत्कृष्ट सुविधा उपलब्ध है। इस ब्राडकास्ट लिस्ट को कोई नाम भी दिया जा सकता है। अपने व्यवसाय से संबधित पोस्ट अपने व्यावसायिक मित्रों को ब्राडकास्ट लिस्ट द्वारा भेजी जा सकती है। अपने नाते-रिश्तेदार, शाला-कॉलेज के मित्र, हम जहां रहते हैं उस सोसायटी के रहवासी, अपने बच्चों के साथ पढ़ने वाले बच्चों के अभिभावक इन सब के लिए अलग-अलग ब्रॉडकास्ट लिस्ट तैयार की जा सकती है। ब्रॉडकास्ट लिस्ट में शामिल लोगों को एकसाथ एक ही समय में आवश्यक संदेश भेजे जा सकते हैं।
 
६) व्हाट्सएप के द्वारा जल्द ही भारत में एक व्यक्ति द्वारा दूसरे व्यक्ति को पैसे भेजने की सुविधा का प्रारंभ होने वाली है। भारत सरकार की एनपीसीआई की ओर से इसकी अनुमति जुलाई २०१७ में दी जा चुकी है।
 
७) प्रोफाइल पिक्चर एवं स्टेट्स बदलने की प्रक्रिया अत्यंत सरल होने के कारण दिन में कई-बार ये बदलने वालों की संख्या भी बहुत अधिक है।
 
८) स्वंय द्वारा भेजे गए संदेश की स्थिति निम्म प्रकार से देखी जा सकती है-
एक टिक – संदेश भेजा गया
दो टिक -हमारा संदेश भेजे गए व्यक्ति के मोबाइल में पंहुच गया है।
दो टिक का नीला रंग – प्राप्तकर्ता द्वारा संदेश देख-पढ़ लिया गया है।
 
९) सोशल मीडिया ऑप्टीमाइजेशन के लिए व्हाट्सएप का उपयोग बड़े पैमाने पर हो रहा है। अलग-अलग बिजनेस ग्रुपों में अपनी सेवा एवं उत्पादनों का प्रचार करने में सहूलियत होती है। नए संपर्क को ‘सेव्ह’ कर उस व्यक्ति से बारबार संपर्क किया जा सकता है। आई हुई पोस्ट को आराम से पढ़ा जा सकता है। उसका उत्तर दिया जा सकता है।
आज केवल १२० लोगों के अथक परिश्रम से सब को यह सेवा पहुंचाई जा रही है। प्रसिद्धि के शिखर पर पहुंचना आसान है परंतु सतत वही स्थान बनाए रखने के लिए अथक परिश्रम की आवश्यकता होती है। आज व्हाट्सएप के अनेक प्रतिस्पर्धी हैं। उनमें से कुछ प्रमुख हैं- इजरायल, जापान, अमेरिका, न्यूयार्क, अमेरिका, चीन, भारती एयरटेल का भारतीय बनावट का उत्तम चैट एप, रूस, अमेरिका, वेन्द्रीस, कैलिफोर्निया
इनमें से आज भी सब से अधिक व्हाट्सएप ही पसंद किया जाता है। आजतक हर क्षेत्र में सतत् सुधार, नि:शुल्क सेवा, भाषा उपलब्धि इन सब के कारण लोगों की पसंद कायम है। सेवा नि:शुल्क होने के बावजूद व्हाट्सएप पर कोई विज्ञापन नहीं दिखाए जाते।
 
जैसे ई-मेल संवाद को सरकारी मान्यता प्राप्त है वैसे अभी व्हाट्सएप को नहीं है, यह ध्यान में रखने योग्य है। जब किसी महत्वपूर्ण व्यवहार हेतु संवाद साधना हो तब व्हाट्सएप संवाद को मिनिट्स ऑफ मीटिंग/चैट इस प्रकार के शीर्षक से दस्तावेज तैयार कर ई-मेल द्वारा भेजें एवं उसकी एक्नालेजमेंट प्राप्त करें। नंबर वही होते हुए भी यदि मोबाइल बदला गया या सॉफ्टवेयर के करप्ट होने से सारा डाटा डिलीट हो सकता है और वह फिर से प्राप्त करने हेतु बहुत कठिनाई होती है। सतत डाउनलोड होने वाले संदेशों, फोटो इ. के कारण मोबाइल स्पेस खाली करना पड़ती है। इसके लिए मोबाइल सेटिंग में चित्र, वीडियो इ. फाइल्स डाउनलोड करने के लिए ’’अनुमति आवश्यक’’ ऐसा स्टेट्स रखने से बहुत सी तकलीफ बच जाती है। अन्यथा एक त्योहार समाप्त हुआ नहीं कि दूसरा तैयार रहता है। सतत प्रोफाइल फोटो, स्टेट्स बदलने से अवांछित लोगों से परेशानी की संभावना रहती है। सावधानी से उपयोग कर अपना लाभ प्राप्त किया जाए यही बेहतर है।

आपकी प्रतिक्रिया...

Close Menu