हिंदी विवेक : WE WORK FOR A BETTER WORLD...

 अमेरिका का पार्किंग मीटर

गाडियों को पार्क करने के लिए जगह और वक्त की पर्ची काटने वालों की जगह मशीनें ले चुकी हैं. इन मशीनों की शुरुआत नई नहीं है, बल्कि लगभग 80 साल पहले हुई थी.

इस मशीन को पार्किंग मीटर भी कहते हैं, जिससे पार्किंग का किराया तय होता है. भारत में छोटे शहरों में तो कम लेकिन बड़े शहरों में अब ये पाए जाने लगे हैं. 1935 में आज ही के दिन पहला पार्किंग मीटर अमेरिकी राज्य ओकलाहोमा की राजधानी ओकलाहोमा सिटी में लगाया गया.

आम तौर पर पार्किंग क्षेत्र में बेतरतीब पार्किंग से बचने के लिए नगर पालिका और कई निजी शॉपिंग कॉम्प्लेक्सों में इसका इस्तेमाल होता है. पार्किंग मीटर के शुरुआती डिजाइन का पेटेंट 30 अगस्त 1928 को अमेरिका के रोजर वॉब्सन ने कराया. मीटर को चलाने के लिए इसे पार्क गई गाड़ी की बैटरी से तार के जरिए जोड़ा जाता था. 1935 में जॉर्ज थ्यूसन और जेराल्ड हेल ने पहला इस्तेमाल वाला पार्किंग मीटर बनाया जिसे ओकलाहोमा सिटी में लगाया गया.

 

1= 1465 – फ्रांस के मोंटलहेरी में युद्ध छिड़ा.

2= 1519 – मार्टिन लूथर और धार्मिक चिंतक जॉन ऐक के बीच लेपजिग के प्लेसिनबर्ग कैसल में सार्वजनिक बहस शुरू.

3=1661 – यूरोप में स्टॉकहोम (Stockholms Banco) बैंक ने पहले बैंक नोट जारी किये.

4= 1683 – कारा मुस्तफा के नेतृत्व में तुर्की सैनिक वियना पहुंचे.

5= 1790 – अमेरिकी कांग्रेस ने कोलंबिया की स्थापना की.

6= 1798 – अमेरिका में सार्वजनिक स्वास्थ्य सेवा विभाग बना और अमेरिकी मरीन अस्पताल अधिकृत.

7= 1856 – हिंदू विधवाओं के पुनर्विवाह की कानूनी मान्यता मिली.

8= 1894 – जापान और इंग्लैंड के बीच आओकि-किम्बरली की संधि पर हस्ताक्षर.

9= 1900 – रूस ने मंचूरिया में चीनी लोगों के खिलाफ आक्रामक अभियान शुरू किया

10= 1909 – आजादी की लड़ाई लड़ने वाली अरुणा आसफ अली का जन्‍म हुआ था. 

11= 1925 – इराक में राजा फैसल ने बगदाद में पहली संसद स्थापित की.

12= 1926 – नेशनल जियोग्राफिक ने पहली बार समुद्र के भीतर के दृश्यों का प्राकृतिक रंगीन फोटों निकाली.

13= 1935 – में ओकलाहोम सिटी में पहला पार्किंग मीटर इंस्‍टॉल किया गया था.

15= 1942 – फ्रांस की राजधानी पेरिस में पुलिस ने 13,152 यहूदियों को गिरफ्तार किया.

16= 1950 – उरुग्वे ने रियो डी जेनेरो में आयोजित फीफा विश्वकप के फाइनल में ब्राजील को 2-1 से शिकस्त देकर खिताब जीता.

17= 1969 – अपोलो-11 यान से चंद्रमा पर पहुंचने वाले बज एल्ड्रिन पहले व्यक्ति बने और उनके चांद पर पहले कदम की फोटो प्रसारित हुई.

18= 1970 – इराक में संविधान लागू हुआ में आया.

19= 1981 – भारत ने परमाणु परीक्षण किया.

20= 1990 – फिलीपींस में 7.7 की तीव्रता के भूकंप में 400 लोग मारे गये.

21= 1993 – ब्रिटेन की खुफिया सेवा, एमआई5 के किसी सदस्य ने फोटो खिंचवा कर पहली बार औपचारिक रूप से जनता के सामने अपनी पहचान खोली थी.

22= 1999 – जॉन एफ़. कैनेडी के पुत्र जॉन एफ़. कैनेडी जूनियर की विमान दुर्घटना में मृत्यु.

23= 2001 – जैक्स रोगे (बेल्जियम) अंतर्राष्ट्रीय ओलम्पिक समिति के आठवें अध्यक्ष बने.

24= 2002 – पराग्वे में आपातकाल की घोषणा.

25= 2003 – पाकिस्तान, सऊदी अरब और 53 अन्य इस्लामी देश, इस्रायल को 2005 तक मान्यता देने पर राजी.

26= 2004 – चीन ने उत्तरी चीन के सबसे बड़े तटीय शहर त्यानचिन में पहला आनलाइन वायु सुरक्षा अभ्यास किया.

27= 2006 – संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में कोरिया पर प्रतिबंध लगाने का प्रस्ताव पारित.

28= 2007 – बांग्लादेश के पूर्व प्रधानमंत्री शेख़ हसीना वाजिद को धन वसूली के एक मामले में गिरफ़्तार किया गया.

29=2007 – जापान के निगाटा तट पर 6.8 तीव्रता के आए भूकंप आने से आठ लोगों की जानें गई और 800 लोग घायल हुए। एक परमाणु ऊर्जा केंद्र भी ध्वस्त हो गया

30= 2008 – ब्रिटेन के पूर्व प्रधानमंत्री टोनी ब्लेयर ने गाजा क्षेत्र की अपनी प्रस्तावित यात्रा रद्द की.

31=2013 – भारत में खाना खाने से 27 बच्चों की मौत और 25 बच्चे अस्पताल में भर्ती हुए.

32= 2015 – वैज्ञानिकों ने प्लूटाे ग्रह की क्लोज़-अप तस्वीरें जारी कीं.

 

 

1= प्रसिद्ध मजदूर नेता, राजकीय अधिकारी, नॉर्वीयन राजनीतिज्ञ तथा जानेमाने लेखक ट्रीगवी ली  का जन्‍म 16 जुलाई1896 हुआ था.

2= भारतीय स्वतंत्रता संग्राम’ में योगदान देने वाली प्रमुख महिलाओं में से एक अरुणा आसफ़ अली  का जन्‍म 16 जुलाई 1909 हुआ था.

3= प्रसिद्ध नाटककार जगदीशचन्द्र माथुर  का जन्‍म 16 जुलाई 1917 हुआ था.

4= भारतीय हॉकी कप्तान धनराज पिल्लै  का जन् 16 जुलाई 1968  हुआ था.

5= बालीवुड अभिनेत्री कटरीना कैफ  का जन् 16 जुलाई 1984 हुआ था.

 

1= प्रसिद्ध कन्नड़ नाटककार के. वी. सुबन्ना  का निधन 16 जुलाई 2005  हुआ था.

 

आपकी प्रतिक्रिया...

Close Menu

विगत 6 वर्षों से देश में हो रहे आमूलाग्र और सशक्त परिवर्तनों के साक्षी होने का भाग्य हमें प्राप्त हुआ है। भ्रष्ट प्रशासन, दुर्लक्षित जनता और असुरक्षित राष्ट्र के रूप में निर्मित देश की प्रतिमा को सिर्फ 6 सालों में एक सामर्थ्यशाली राष्ट्र के रूप में प्रस्तुत करने में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी की अभूतपूर्ण भूमिका रही है।

स्वंय के लिए और अपने परिजनों के लिए ग्रंथ का पंजियन करें!
ग्रंथ का मूल्य 500/-
प्रकाशन पूर्व मूल्य 400/- (30 नवम्बर 2019 तक)

पंजियन के लिए कृपया फोटो पर क्लिक करें

%d bloggers like this: