हिंदी विवेक : WE WORK FOR A BETTER WORLD...

मानव तस्करी का चल रहा अंतर्राष्ट्रीय रैकेट ?

मुंबई के चेम्बूर स्थित ठक्कर बाप्पा क्षेत्र में रहने वाली एक नाबालिग लड़की बीते ६ माह से लापता है. पुलिस द्वारा गंभीरता से उसकी खोज नहीं करने के चलते अब तक उसका कोई पता नहीं चला है. जिससे आहत होकर उसके पिता ने आत्महत्या कर ली. कल मंगलवार की दोपहर में उनकी अंतिम यात्रा निकाली गई, जिसमें चेम्बूर क्षेत्र के हजारों लोग शामिल हुए. इस दौरान कुछ असामाजिक तत्वों ने अचानक पत्थरबाजी शुरू कर दी. आक्रोशित लोगों ने रास्ता रोको आन्दोलन किया और लाठीचार्ज करने के कारण पुलिस पर भी हमला कर दिया. सूत्रों ने बताया कि बीते ३ वर्षो में उक्त क्षेत्र से ७ लड़कियां लापता हुई है. नेहरु नगर पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक व अन्य पुलिस अधिकारीयों की मिलीभगत से लगातार लड़कियां गायब हो रहीं है. यह मामला मानव तस्करी से जुड़ा हुआ है. आशंका जताई जा रहीं है कि मानव तस्करी का अंतर्राष्ट्रीय रैकेट यहां पर चलाया जा रहा है.  सुसाइड नोट में अनवर शेख का नाम होने के बावजूद पुलिस ने अब तक उसके खिलाफ कोई ठोस कार्यवाही नहीं की है. इस मामले की गंभीरता को देखते हुए एसआईटी गठन की मांग की जा रहीं है. इसके अलावा पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने के लिए विवेक विचार मंच द्वारा सत्य शोधन समिति का गठन किया गया है. क्या मुबई पुलिस के मिलीभगत से चल रहा है मानव तस्करी का अंतर्राष्ट्रीय रैकेट ? अपनी बेबाक राय दें

आपकी प्रतिक्रिया...

Close Menu

विगत 6 वर्षों से देश में हो रहे आमूलाग्र और सशक्त परिवर्तनों के साक्षी होने का भाग्य हमें प्राप्त हुआ है। भ्रष्ट प्रशासन, दुर्लक्षित जनता और असुरक्षित राष्ट्र के रूप में निर्मित देश की प्रतिमा को सिर्फ 6 सालों में एक सामर्थ्यशाली राष्ट्र के रूप में प्रस्तुत करने में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी की अभूतपूर्ण भूमिका रही है।

स्वंय के लिए और अपने परिजनों के लिए ग्रंथ का पंजियन करें!
ग्रंथ का मूल्य 500/-
प्रकाशन पूर्व मूल्य 400/- (30 नवम्बर 2019 तक)

पंजियन के लिए कृपया फोटो पर क्लिक करें

%d bloggers like this: