तेल की बढ़ती कीमतों पर कांग्रेस ने किया प्रदर्शन, कहा कम हों पेट्रोल-डीजल के दाम

  • मोदी के काम का पूरी दुनिया मानती है लोहा
  • विपक्ष की लगातार सरकार को घेरने की कोशिश
  • कोरोना पर भी कांग्रेस ने सरकार पर उठाया था सवाल
  • बढ़ती तेल की कीमतों पर कांग्रेस ने किया प्रदर्शन
केंद्र की मोदी को विपक्ष हमेशा किसी ना किसी मुद्दे पर घेरने के लिए तैयार रहता है हालांकि मोदी सरकार ऐसे मौके कम देती है जब उसे विरोधी घेर सके या फिर सरकार के काम पर सवाल खड़ा कर सके। प्रधानमंत्री मोदी अपने फैसलों के लिए पूरी दुनिया में विख्यात है कि वह कोई भी फैसला लेने से पहले उसकी पूरी तैयारी करते है और किसी भी फैसले को लेने का दम रखते है। पूरी दुनिया के साथ साथ भारत भी कोरोना महामारी से परेशान है लेकिन सरकार लगातार इससे बचने के उपाय पर भी काम रही है लेकिन विपक्ष इस महामारी के मौके पर भी सरकार को घेरने के लिए तैयार है। कांग्रेस की तरफ से महामारी को लेकर कई बार सवाल भी उठाया गया था और सरकार पर आरोप लगाया गया था कि सरकार ने सही समय पर फैसला नहीं लिया वरना देश में संक्रमण कम फैलता और लोगों की जान भी बचाई जा सकती थी।
विपक्ष ने अब देश में लगातार बढ़ते पेट्रोल और डीजल के दाम को लेकर भी सरकार पर हमला बोला है कांग्रेस ने देश के अलग अलग हिस्सों में तेल के बढ़ते दाम के विरोध में प्रदर्शन किया। कांग्रेस शासित राज्यों में विरोध ज्यादा देखने को मिला जहां कांग्रेस के नेताओं ने साइकल चलाकर, सड़क पर पैदल चलकर अपना विरोध दर्ज करवाया। कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने सरकार का विरोध करते हुए आरोप लगाया कि सरकार गलत तरीके से जनता से पेट्रोल-डीजल के ज्यादा दाम वसूल रही है। सोनिया गांधी ने कहा कि सरकार की तरफ से अब तक 12 बार एक्साइज ड्यूटी को बढ़ाया गया है और सरकार ने कुल 18 लाख करोड़ रुपये अतिरिक्त वसूले है। तेल की किमतों में पिछले करीब 22 दिनों से लगातार तेजी देखने को मिल रही है और पेट्रोल-डीजल के दाम 80 रुपये से उपर चले गये है।

कांग्रेस की तरफ से आरोप लगाया गया कि अंतराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम लगातार कम हो रहे है। कच्चे तेल के दाम अब तक के सबसे निचले स्तर पर आ गया है जबकि भारत में तेल के दामों में तेजी देखने को मिल रही है। कच्चे तेल के दाम गिरने से मिलने वाला फायदा जनता को ना देकर सरकार इसे अपने खजाने में भर रही है। राहुल गांधी ने सरकार के फैसले पर सवाल उठाते हुए कहा कि सरकार जनता का हक छीन रही है जिससे सभी को इसके खिलाफ आवाज़ उठानी होगी। राहुल गांधी ने एक विडियो संदेश को ट्वीट करते हुए लिखा कि आइये #SpeakUpAgainstFuelHikeCampaign# से जुड़े।

प्रियंका गांधी ने राहुल से अलग एक और विडियो पोस्ट किया है जिसमें एक किसान पेट्रोल डीलज सेे होने वाली परेशानी के बारे में बता रहा है।

आपकी प्रतिक्रिया...