हिंदी विवेक : we work for better world...
केंद्र सरकार और विभिन्न राज्य सरकारों द्वारा समय – समय पर प्लास्टिक प्रतिबंधित की जाती रही है पर उसका कोई व्यापक प्रभाव आम लोगों के बीच नहीं देखा गया है। इसके पीछे क्या कारण हैं?
अपनी बेबाक राय दें।

This Post Has 3 Comments

  1. हमारे लोगो में देशप्रेम का अभाव है। गंभीरता नहीं।सजगता नहीं।भविष्यकी सोच नहीं।अवसरवादिता है।इसमें भी गंदी राजनीति करते हैं।सहकार की भावना नहीं।दूरद्रष्टि नहीं।पर्याय स्वीकारते नहीं।आदि ऐसे अनेक कारण है प्लस्टिक प्रतिबंधित करनेमें सभी अवरोधोंका सामना करना पडता है।

  2. सरकारी तंत्र उदासीन है।

  3. इसके लिए सरकार की दृढ़ इच्छाशक्ति और सख्ती दोनों नही है, जनता की जागरूकता भी नही है कि प्लास्टिक से प्रदूषण फैलता है भारतीय तो वैसे भी प्रदूषण उसके दुष्प्रभाव को लेकर जागरूक नही है तो इसमे केंद्र या राज्य सरकारे क्या करे ?? जब तक प्लास्टिक या प्रदूषण के दुष्प्रभाव की आम लोगो को जागरूकता नही आएगी तब तक इसका स्थायी समाधान नही है ।

आपकी प्रतिक्रिया...

Close Menu