हिंदी विवेक : we work for better world...

शिया वक़्फ़ बोर्ड के अध्यक्ष सय्यद वसीम रिज़वी ने अयोध्या में राम मंदिर के लिए दस हजार का दान देते हुए अपील किया कि, ‘मुसलमान ज़िद छोड़ें’ तथा आगे यह भी जोड़ा कि  ‘राम का मंदिर अयोध्या में नहीं तो क्या सउदी अरब में बनेगा?’ क्या बाकी मुस्लिम समूहों को भी भाई चारे के तहत आगे आकर मंदिर निर्माण के प्रति सहयोग करना चाहिए? अपनी बेबाक राय दें.

This Post Has 2 Comments

  1. Yes bilkul had jagah sirf hindu hi nahi milega bahut bus tustikaran abhi ke musalmano ko sochna chahiye sirf hindu hi hamesha sadashayata nahi dikhayega aur shriram janmbhoomi yah har hindu Bharatiya ke man ka prabal chahat h ki mandir vahi bane aur jarur banega jai mahaveer

  2. कुछ वर्ष पूर्व मुस्लिमों के सर्वश्रेष्ठ तीर्थ अरब के मक्का मस्जिद के इमाम भारत आये थे। उन्होंने कहा था कि किसी मंदिर के ऊपर यदि मस्जिद बनाई जाये तो वह अवैध होगी। अब जब यह सिद्ध हो चुका है कि विवादित मस्जिद मंदिर तोड़कर बनाई गयी थी तो मुस्लिम भाइयों को इस जगह पर अपना दावा छोंडकर मंदिर निर्माण में सहयोग करना चाहिए। बाबरी आक्रांता था लेकिन आज के मुस्लिम अपने हैं।

आपकी प्रतिक्रिया...

Close Menu