हिंदी विवेक : we work for better world...

    मानसून में त्वचा की बनावट (टेक्सचर) बदलने लगती हैं। मौसम मे नमी बढ़ने से कभी त्वचा शुष्क तैलीय हो जाती है तो कभी शुष्क और फीकी मानसून में फ्रेश लुक पाने के लिए त्वचा का खास ख्याल रखना जरुरी है, लेकिन हम ध्यान नही देते। हम लाए हैं आपके लिए सरल मानसून ब्यूटी केअर टिप्स, जिन्हें अपनाकर आपकी त्वचा निखर उठेगी।

* मानसून में हमेशा माइल्ड साबुन और माइल्ड स्क्रब का इस्तेमाल करें।

* यादि आपकी त्वचा शुष्क हैं तो एंटीबैक्टीरीयल साबुन और डियोेडरेंट का उपयोग इस मौसम में करना बंद करे दें। अन्यथा त्वचा और भी शुष्क हो जाएगी।

*बारिश के मौसम में जितनी बार भी चेहरा धोएं, टोनर अवश्य लगाएं।

* इस मौसम में धूप ज्यादा नहीं निकलती हम सोचते हैं चेहरे को नुकसान नही होगा और सनस्क्रीन नहीं लगाते। नमी बढ़ने से, हमें लगता है, चेहरे तो नम है माइश्चराइजर की क्या आवश्यकता है। इसलिए उसे भी नहीं लगाते। यही हम गलती कर जाते हैैं।

* ध्यान रहे धूप ना हो तो भी बाहर जाते समय सनस्क्रीन और भले ही मौसम में नमी हो, माइश्चराइजर का इस्तेमाल करें अर्थात बारिश में भी आपका स्किन केयर रुटिन वही हो, जो बाकी के मौसम में है।

*  मानसून में आपके हाथ, पैर और नाखून साफ सुथरे और सूखे होने चाहिए।

* पैरों में बूटस ना पहने, क्योंकि उसमें पानी भरने से पैर ज्यादा समय तक गीले रह सकते हैं, जिससे फंगल इंफेक्सन का खतरा बढ़ जाता है।

* पैरों के गीले रहने से, पैरों मेें गंध आने लगती हैं इसके लिए गुनगुने पानी में रोज ऑइल की कुछ बूंदें डालकर उसमें पैंरों को कुछ देर डुबोकर रखें। थकान और गंध दोनो छूमंतर हो जाएगी।

* नहाने के बाद पैरों में एंटी फंगल पावडर लगाएं यह मेडिकल स्टोर में  असानी से उपलब्ध हैं।

* पैरों को संक्रमण से बचाने के लिए हाइड्रोजन पराक्साइड, रुई पर लगाकर नाखूनों की सफाई करें मानसून में खूले फुटवेअर जैसे सैंडल्स व फ्लोटर्स पहने ताकि पैरो में हवा की आवाजाही होती रहें।

     * चेहरे का तरोताजा लुक पाने के लिए 1 टी स्पून बेसन, 1 चुटकी हल्दी पावडर थोेडी सी मलाई और शहद मिलाएं, चेहरे गर्दन पर 15 मिनिट तक लगाकर रखें फिर गुनगुने पानी से धो लें

* मानूसन में बालों की देखभाल करना बेहद जरूरी है। अन्यथा नमी से वे खराब हो जाते हैं। इसके लिए हमारा दिनांक 20 जून 2018 का वेब आर्टिकल ” बारिश में कैसे बचें, उलाझते, टुटते चिपचिपे बेजान बालों से ” अवश्य पढ़े और उसका लाभ लें।

 

 

आपकी प्रतिक्रिया...

Close Menu