हिंदी विवेक : we work for better world...

          क्या आप अक्सर सर्दी, खांसी या सांस संबंधी समस्याओं से परेशान रहतें हैं? इसकी वजह आपको घर में मौजूद कीटाणु भी हो सकते हैं। किचन में खाने पीने की चीजें होती हैं। अतः यहां कीड़ें, मकोड़ें, कीटाणुओं और बैक्टीरिया की संभावना सबसे ज्यादा होती है। आइए देखते हैं, क्या करने से हमारा किचन बैक्टीरिया फ्री हो सकता है।

*किचन प्लेटफॉर्म…

यहां हम खाना बनाते हैं। इस पर कुछ न कुछ गिरता रहता है। इसके कारण कीड़ें, मकोड़ें और फूड बैक्टीरिया तेजी से बढत हैं। यही हमारी बीमारी का कारण है।

*क्या करें…

अक्सर महिलाएं गीले कपडे से किचन प्लेट फार्म पोछंकर निश्चित हो जाती है, सोंचती हैं सफाई हो गई। हर बार खाना बनाने के बाद, प्लेटफॉर्म की साबुन से धोएं हप्ते में १ बार पानी में १ चम्मच क्लोरीन ब्लीच डालकर साफ करें।

*कटिंग बोर्ड / चाकू..

एैसा माना जाता है कटिंग बोर्ड पर, टॉयलेट सीट की तुलना में २० गुना ज्यादा कीटाणु होतें हैं। इनको साफ रखना बेहद आवश्यक है।

*क्या करें…

फलों के लिए अलग, सब्जियों के लिए अलग और नॉनवेज जैसे गीट, चिकन, फिश के लिए अलग चाकू और कटिंग बोर्ड रखें ताकि आपस में संदूषण (कंटामिनेशन) न हो, काम होने के बाद साबुन ने धोकर रखे बीच बीच में बैक्टीरियल क्लीनर से साफ करें।

*बर्तन रखने की ट्राली

बर्तन रखने की ट्राली की नियमित रुप से सफाई करें धुले बर्तनों को साफ कपडे से पोछकर जमाएं गीले बर्तन रखने से कॉकरोच की संभावना होती है।

*बर्तन धोने का स्पांज और किचन नैपकीन

अगर इन्हें सही तरीके से साफ और स्टोर ना किया गया तो इनमें फंगस और असंख्य कीटाणु पनपतें हैं जो बर्तनों द्वारा हमारे शरीर में पहुंचकर हमें नुकसान पहुंचाते हैं।

*क्या करें

ध्यान रहे इस्तेमाल के बाद यह पूरी तरह सूखना चाहिए अन्यथा गीला रहने पर कीटाणु तेजी से फैलते है। किचन नैपकीन इस्तेमाल के बाद साबुन से धोकर सुखा लें फिर इस्तेमाल करें इन्हें समय समय पर बदलतें रहें।

*किचन सिंक

इस्तेमाल के बाद साबुन से घिसकर धोएं, सूखनें दें। बीच बीच में विनेगर से साफ करें, किचन सिंक के ड्रेनेज में, हर महीने ड्रेनेज क्लीनर का १ पॅकेट डाल दें।

*डस्ट बिन

बैक्टीरिया पनपने की आम जगह है, इसमें हमेशा पॉलीथिन लगाकर रखें, उसमें ही कचरा डालें प्लास्टिक बैन होने से, पेपर बैग मिलने लगे हैं। इन्हें लगाए अखबार की सहायता से २-३ परतों वाली पेपर बैग आसानी से घर में बनाई जा सकती हैं। हर हप्ते डस्टबिन साबुन से धोकर सुखाकर इस्तेमाल करें।

*अन्य टिप्स

रोज लंच और डिनर बनने के बाद फ्लोर पर पोछां लगाएं।

सुबह किचन की सारी खिडकियां खोल दें ताकि हवा और सूरज की रोशनी आती रहें, इससे कीटाणु नहीं पनपतें।

खाना बनाते समय एक्जॉस्ट फैन अवश्य लगाएं

समय समय पर घर में पेस्ट कंट्रोल करवाते रहें।

 

This Post Has 3 Comments

  1. उपयोगी जानकारी

  2. Very good information… thanks for sharing.

  3. बहुत अच्छी जानकारी मिली

आपकी प्रतिक्रिया...

Close Menu