हिंदी विवेक : we work for better world...

 

गणेशजी का आगमन होने ही वाला है, उनका मनपसंद प्रसाद मोदक है, इच्छा होते हुए भी, कामकाजी महिलाएं घर में मोदक बना नही पाती, हम आपको बता रहे हैं। गणपति बाप्पा के 11 दिनों की फटाफट बनने वाली  मोदक रेसीपीज तो इस वर्ष मोदक, बाजार से ना लाकर, घर पर ही बनाएं। विघ्नहर्ता तो प्रसन्न होंगे ही, घरवाले भी खुश हो जाऐंगे…

..मोदक 2 प्रकार से बनाए जाते हैं।

  1. सांचे से बने हुए मोदक
  2. तेल/घी में तलकर बने हुए मोदक।

आज हम सांचे से बने झटपट मोदक विधि बता रहे है। गणेश स्थापना से 3-4 दिन पहले ही नीचे बतायी पूर्व तयारी कर लें।

* पूर्व तैयारी –

* 200-250 ग्राम काजू की मिक्सर में पीसकर दरदरी पाउडर  बनाएं।

* मिक्सर में इलायची पीसकर पाउडर बनाएं1

* बाजार से मोदक के सांचे लेकर आएं।

* बेसिक भरावन बनाएं जो हर प्रकार के मोदक में उपयोग की जाएगी। इसके लिए एक पैन में 4 कप खोया, 2 कप चीनी    मिलाकर गर्म करें, थोड़ासा गाढ़ा होने पर गैस बंद करें। मिश्रण को 5-6 घंटे छोड़ दें। अब आटे की तरह मलकर, एयरटाइट डिब्बे में भरकर फ्रिज में रख दें। आवश्यकता अनुसार उपयोग में लाएं।

1 इलायची खोया मोदक….

मोदक जितने बनाने हो, उस हिसाब से बेसिक भरावन लें। स्वादानुसार इलायची पावडर मिलाएं। अच्छे से मलकर उसकी लोइयां बनाएं। सांचे में डालकर मोदक बना लें।

2 केसर काजू मोदक…..

1/2 छोटा चम्मच केसर, 1 छोटे चम्मच पानी में भिगो लें। इसमें 4 बड़े चम्मच काजू पावडर मिलाएं। आवश्यकता के अनुसार बेसिक भरावन मिलाकर गूंथ लें। सांचे में डालकर मोदक बना लें। ये रंगीन केसरी मोदक बहुत अच्छे दिखते हैं।

3 चाकलेट मोदक…..

1/2 कप बेसिक भरावन, 1 बड़े चम्मच चाकलेट पाउडर मिलाकर अच्छी तरह मल लें। सांचो में डालकर मोदक बनाएं, ये चाकलेटी रंग के मोदक बच्चों को बहुत भाते हैं।

4 गुलकंद काजू मोदक…..

एक कढ़ाई में 3 चम्मच गुलकंद और 3 चम्मच दरदरी काजू पाउडर मिलाकर थोड़ा भून लें। अब ठंडा करें। आवश्यकतानुसार बेसिक भरावन मिलाकर गूंथ लें। सांचो में डालकर मोदक बना लें। इनके रंग के साथ इनकी खुशबु बड़ी मनमोहक होती हैं।

तो फटाफट मोदक बनाएं पैसे भी बचाएं और लोगो से वाहवाही पाएं…

 

This Post Has One Comment

  1. मात्रा एवं व्याकरण की गलतियां, अशुद्ध भाषा
    यह किस तरह की हिंदी है आपकी ?
    पहले तो ऐसा नहीं था

आपकी प्रतिक्रिया...

Close Menu