हिंदी विवेक : we work for better world...


प्रधानमंत्री मोदी व सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल के अथक प्रयास से वीवीआईपी हेलीकॉप्टर घोटाले मामले में वांछित आरोपी ब्रिटीश नागरिक क्रिश्चन मिशैल को दुबई से पकड़कर भारत लाया गया है। जिससे नामी-गिरामी पत्रकारो की हलचल बढ़ गई है, क्योंकि उन्होने घोटालो को दबाने के एवज में लगभग कुल 48 करोड़ रू. लिए थे। इसके अलावा मिशैल के भारत प्रत्यर्पण से विजय माल्या, मेहुल चौकसी और नीरव मोदी जैसे भगोड़ों की नींद उड़ गई है। क्या आपको लगता है कि भारत में घोटाला कर विदेश भागने वाले आरोपियो पर भारत सरकार अब नकेल कस पाएंगी? अपनी बेबाक राय दे.

आपकी प्रतिक्रिया...

Close Menu