हिंदी विवेक : WE WORK FOR A BETTER WORLD...

एक थे बापू जिनका नाम,अमर हो गया देशके नाम

भारत की वो शान थे , भारतका अभिमान भी थे

सारा भारत जिनको जाने, माने अब सारी दुनियाँ

                 एक थे बापू जिनका नाम,अमर हो गया देशके नाम

सबने जिनको ठुकराया, उन हरिजनको प्यार दिया 

दीन-दुखीको अपनाया और उनका भी उध्दार किया

ऐसे थे हमारे बापूजी,सबको उन्होने अपनाया

                  एक थे बापू जिनका नाम,अमर हो गया देशके नाम

फैली हुकुमत अंग्रेजी, बरसात हो गई जुल्मोंकी

रुकनेका नाम न था, झुकना हमारा काम न था

चुप ना बैठे बापूजी ,और ना कोई भारतवासी

              एक थे बापू जिनका नाम,अमर हो गया देशके नाम

उठाई ना कोई तलवार और न  था कोई हथियार

सत्य अहिंसा जिनके साथ होगी कैसी उनकी हार

लडते रहे सब दिन और रात, चाहे जीये या जाये जान

             एक थे बापू जिनका नाम,अमर हो गया देशके नाम

जीत हुई सच्चाईकी , बेहाल अंग्रेज भाग गया

मिली आजादी बरसोंबाद ,हुआ हमारा देश आजाद

भारत माँ की जय जय से , गुँज उठा सारा संसार

डॉ. रश्मि नायर,604,श्वेता रेसिडेंसी,बिल्डींग नंबर 2,वगाडनगर,
रामदेव पार्क मीरा रोड (पूर्व) भयंदर पोस्ट पीन -401107 जिल्हा थाने
महाराष्ट्र

आपकी प्रतिक्रिया...

Close Menu
%d bloggers like this: