हिंदी विवेक : WE WORK FOR A BETTER WORLD...
श्रीलंका में अलग देश की मांग करनेवाले लिट्टे और उनके समर्थकों का सेना ने सफाया किया था। उसी तर्ज पर क्या कश्मीर में भी इस्लामिक स्टेट का सपना पाले आतंकियों और उनके समर्थकों का सफाया करना चाहिए।बता दें कि सैन्य कार्रवाई के दौरान लिट्टे को बचाने हेतु वहां के स्थानीय तमिल नागरिकों ने ढाल बनने का प्रयास किया था,  किंतु श्रीलंका की सेना ने किसी को नहीं बख्शा और समर्थकों सहित सभी आतंकियों का जड़ से सफाया कर दिया। क्या भारत सरकार को भी श्रीलंका की तर्ज पर कश्मीर में सैन्य कार्रवाई करनी चाहिए ?अपनी बेबाक राय दे 

This Post Has 5 Comments

  1. अब समय आ गया है आस्तीन के सांपों को कुचलने का।उनके समर्थकों,संरक्षकों को बेनकाब कर समाप्त करने का।भारत के प्रगति पथ पर आने वाले हर अवरोध को उखाड फेंकना जरूरी है,चाहे वह कितना ही रसूखदार क्यों न हो।और हां हर मामले में अपनी टांग अडाने वाली अदालतों को भी राष्ट्र का हित ठोक बजाकर समझाना जरूरी हो गया है।कानून का डंडा भी राष्ट्र हित से ऊपर नहीं है।

आपकी प्रतिक्रिया...

Close Menu
%d bloggers like this: