हिंदी विवेक : WE WORK FOR A BETTER WORLD...

राष्ट्रीय विज्ञान दिन से होगी वैज्ञानिक उन्नति ?

भारत में सन् 1986 से प्रतिवर्ष 28 फरवरी को राष्ट्रीय विज्ञान दिवस (नेशनल साइंस डे) मनाया जाता है। प्रोफेसर सी.वी. रमन (चंद्रशेखर वेंकटरमन) ने सन् 1928 में कोलकाता में इस दिन एक उत्कृष्ट वैज्ञानिक खोज की थी, जोरमन प्रभावके रूप में प्रसिद्ध है।

रमण की यह खोज 28 फरवरी 1930 को प्रकाश में आई थी। इस कारण 28 फरवरी राष्ट्रीय विज्ञान दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस कार्य के लिए उनको 1930 में नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।

इस दिवस का मूल उद्देश्य विद्यार्थियों को विज्ञान के प्रति आकर्षित करना, विज्ञान के क्षेत्र में नए प्रयोगों के लिए प्रेरित करना तथा विज्ञान एवं वैज्ञानिक उपलब्धियों के प्रति सजग बनाना है। इस दिन, विज्ञान संस्थान, प्रयोगशाला, विज्ञान अकादमी, स्कूल, कॉलेज तथा प्रशिक्षण संस्थानों में वैज्ञानिक गतिविधियों से संबंधित प्रोग्रामों का आयोजन किया जाता हैं। रसायनों की आणविक संरचना के अध्ययन मेंरमन प्रभावएक प्रभावी साधन है।

राष्ट्रीय विज्ञान दिवस देश में विज्ञान के निरंतर उन्नति का आह्वान करता है, परमाणु ऊर्जा को लेकर लोगों के मन में कायम भ्रातियों को दूर करना इसका मुख्य उद्देश्य है तथा इसके विकास के द्वारा ही हम समाज के लोगों का जीवन स्तर अधिक से अधिक खुशहाल बना सकते हैं। 

रमन प्रभाव में एकल तरंगदैध्र्य प्रकाश (मोनोक्रोमेटिक) किरणें, जब किसी पारदर्शक माध्यम ठोस, द्रव या गैस से गुजरती है तब इसकी छितराई किरणों का अध्ययन करने पर पता चला कि मूल प्रकाश की किरणों के अलावा स्थिर अंतर पर बहुत कमजोर तीव्रता की किरणें भी उपस्थित होती हैं। इन्हीं किरणों को रमनकिरण भी कहते हैं। > भौतिक शास्त्री सर सी.वी. रमन एक ऐसे महान आविष्कारक थे, जो सिर्फ लाखों भारतीयों के लिए बल्कि दुनिया भर के लोगों के लिए प्रेरणास्रोत हैं। यह किरणें माध्यम के कणों के कंपन एवं घूर्णन की वजह से मूल प्रकाश की किरणों में ऊर्जा में लाभ या हानि के होने से उत्पन्न होती हैं। इतना ही नहीं इसका अनुसंधान की अन्य शाखाओं, औषधि विज्ञान, जीव विज्ञान, भौतिक विज्ञान, खगोल विज्ञान तथा दूरसंचार के क्षेत्र में भी बहुत महत्व है।

आज के इतिहास की अन्य प्रमुख घटनाएं

1580 – गोवा से पहला ईसाई मिशनरी अकबर के दरबार फतेहपुर सीकरी आया.

1712 – मुगल बादशाह बहादुर शाह प्रथम की लाहौर में मृत्यु हुई.

1847 – अमेरिका ने सकरामेंटो के युद्ध में मेक्सिको को पराजित किया.

1922 – मिस्र ने ब्रिटेन से दोबारा आजादी प्राप्त की.

1924 – अमेरिका ने मध्य अमेरिकी देश होंडुरस पर हस्तक्षेप शुरू किया.

1928- सीवी रमन ने रमन प्रभाव का आविष्कार किया जिसके लिए उन्हें नोबेल पुरुस्कार दिया गया.

1936- जवाहर लाल नेहरु की पत्नी कमला नेहरु का स्विटजरलैंड में निधन.

1943- कोलकाता का हावड़ा पुल (रविन्द्र सेतु) शुरू हुआ.

1947- चीनी राष्ट्रीय पार्टी कोमिंटांग के खिलाफ ताईवान में प्रदर्शन किया गया.

1948- ब्रिटेन के सैनिकों का अाखिरी दस्ता भारत से रवाना हुआ.

1963- भारत के पहले राष्ट्रपति राजेन्द्र प्रसाद का निधन.

1974- ब्रिटेन के संसदीय चुनाव में त्रिशंकु परिणाम आया.

1975 – अमेरिका ने नेवादा परीक्षण स्थल से परमाणु परीक्षण किया.

1991 – अमेरिका तथा गठबंधन सेना ने इराक में युद्ध विराम की घोषणा की.

1995 – अमेरिका के कोलोराडो में देनवर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा शुरू.

1997 – पाकिस्तान में भूकंप से 45 की मौत.

2003 – नामीबिया के राष्ट्रपति सैम नुजोमा भारत की चार दिवसीय राजकीय यात्रा पर नई दिल्ली पहुंचे, भारत की स्थायी सदस्यता वाला विधेयक अमेरिकी संसद में पेश.

2005 – मिलियन डाॅलर बेबी को चार ऑस्कर पुरस्कार.

2006 – फिलीपींस में आपातकाल लागू करने का मामला न्यायालय पहुंचा.

आपकी प्रतिक्रिया...

Close Menu
%d bloggers like this: