हिंदी विवेक : WE WORK FOR A BETTER WORLD...

 दुनिया के लिए प्रेरणास्त्रोत अर्ल्बट आइंस्टाईन

दुनिया को सापेक्षवाद का सिद्धांत देने वाले मशहूर वैज्ञानिक अलबर्ट आइंस्टाइन का जन्म आज ही के दिन हुआ था.14 मार्च 1879 को प्रतिभा और बुद्धि के धनी अलबर्ट आइंस्टाइन का जन्म जर्मनी के उल्म शहर में एक मध्यवर्गीय परिवार में हुआ था. आइंस्टाइन के पिता इलेक्ट्रिकल इंजीनियर थे. आइंस्टाइन के सापेक्षता के सिद्धांत ने भौतिकी की दुनिया ही बदल दी. कण और ऊर्जा सिद्धांत पर उनका योगदान क्वांटम यांत्रिकी को सफल में बनाने में मददगार साबित हुआ. जर्मनी और इटली में बचपन बिताने के बाद आइंस्टाइन ने स्विट्जरलैंड के ज्यूरिख में भौतिकी और गणित की पढ़ाई की. 1905 में वे स्विस नागरिक बने और उसके बाद उन्हें ज्यूरिख यूनिवर्सिटी से पीएचडी की उपाधि मिली. इतिहासकारों के मुताबिक यह समय आइंस्टाइन के जीवन का “चमत्कार वर्ष” था.

1905 में आइंस्टाइन ने सापेक्षता के सिद्धांत पर शोध पेपर लिखे जिन्हें आधुनिक भौतिक विज्ञान के मूल स्तंभों में माना जाता है. सापेक्षता के सिद्धांत में आइंस्टाइन ने कहा था कि इस ब्रह्मांड में कोई भी वस्तु प्रकाश की गति से तेज नहीं चल सकता है. द्रव्यमान-ऊर्जा का समीकरण e=mc2 देने वाले आइंस्टाइन को 1921 में सैद्धांतिक भौतिकी, खासकर प्रकाश-विद्युत उत्सर्जन की खोज के लिए नोबेल पुरस्कार दिया गया था.

आइंस्टाइन का बचपन आम बच्चों की तरह नहीं गुजरा था. उन्हें बचपन में कई तरह की मुश्किलों का सामना करना पड़ा. लेकिन तेज दिमाग वाले आइंस्टाइन ने सभी मुसीबतों को पार पाते हुए सैद्धांतिक भौतिक विज्ञान की दुनिया बदल डाली. वे एक भावनाशील हृदय वाले इंसान थे. जब जर्मनी में हिटलर शासन में नाजियों की हिंसा और उत्पीड़न का तांडव शुरू हुआ तो आइंस्टाइन ने इस कृत्य की घोर निंदा की. उन्हें जर्मनी छोड़ना पड़ा. 1940 में आइंस्टाइन अमेरिकी नागरिक बने. इसके बाद का जीवन उन्होंने अमेरिका में ही बिताया. 18 अप्रैल 1955 को 76 वर्ष की उम्र में आइंस्टाइन का निधन हुआ. लोग आज आइंस्टाइन के दिमाग को कंप्यूटर से तुलना करते हैं.

 

आज के इतिहास की अन्य प्रमुख घटनाएं

  • फ्रांस कॉलाेन, बावारिया,और स्वीडन ने 1647 में 30 साल चले युद्ध के बाद संघर्ष विराम समझौते पर हस्ताक्षर किये।
  • इटली के राजा विट्टोरियो इमैनुअल तृतीय 1912 में जानलेवा हमले में घायल हुए।
  • तुर्की और सर्बिया ने 1914 में शांति समझौते पर हस्ताक्षर किये।
  • सन 1931 में भारत की पहली बोलती फिल्म “आलमआरा” का मुम्बई में प्रदर्शन हुआ।
  • राजकुमार महेंद्र सन 1955 में नेपाल के राजा बने।
  • मोनाको में शाही परिवार राजकुमारी ग्रेस ने 1958 में एक पुत्र को जन्म दिया उसीकी ख़ुशी में मोनाको में 101 तोपों की सलामी दी गई।
  • इजरायली मंत्रिमंडल ने 1965 में पश्चिमी जर्मनी के साथ राजनयिक संबंध बहाल करने पर सहमति दी।
  • अमेरिकाने सन 1976 में नेवादा में परमाणु परीक्षण किया।
  • तेल उत्पादक देशों के समूह ओपेक ने 1983 में 23 साल में पहली बार तेल कीमतों में कटौती की।
  • गणित प्रेमियों के लिए खास दिन ‘पाई डे’ 1988 में पहली बार मनाया गया।
  • आस्ट्रेलियाई बल्लेबाज रिकी पोंटिंग ने 1993 में 18 वर्ष की आयु में तस्मानिया के लिये खेलते हुये दो शतक जड़े।
  • सोनिया गांधी1998 में पहली बार कांग्रेस अध्यक्ष बनी।
  • स्पेन का कार्लोस मोया 1999 में विश्व का नंबर एक टेनिस खिलाड़ी बना।
  • चीन में निजी सम्पत्ति को क़ानूनी मान्यता प्रदान करने के लिए 2004 में संविधान में संशोधन।
  • विक्ट्री समूह ने 2008 में ब्रिटेन की प्रसिद्ध स्विचगियर निर्माता कंपनी ‘क्रेग एण्ड डेरिकार’ का अधिग्रहण किया।

14 मार्च को जन्मे व्यक्ति 

  • पहली महिला डेंटिस्ट हॉब्स टेलर का 1833 में जन्म हुआ।
  • प्रसिद्ध मलयालम साहित्यकार एस. के. पोट्टेक्काट्ट का 1913 में जन्म।
  • बॉलीवुड के मिस्‍टर परफेक्सिनिस्ट कहे जाने वाले आमिर खान का 1965 में जन्‍म हुआ।
  • मणिपुर की मानवाधिकार कार्यकर्ता इरोम चानू शर्मिला का 1972 में जन्‍म हुआ।

14 मार्च को हुए निधन 

 

आपकी प्रतिक्रिया...

Close Menu

विगत 6 वर्षों से देश में हो रहे आमूलाग्र और सशक्त परिवर्तनों के साक्षी होने का भाग्य हमें प्राप्त हुआ है। भ्रष्ट प्रशासन, दुर्लक्षित जनता और असुरक्षित राष्ट्र के रूप में निर्मित देश की प्रतिमा को सिर्फ 6 सालों में एक सामर्थ्यशाली राष्ट्र के रूप में प्रस्तुत करने में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी की अभूतपूर्ण भूमिका रही है।

स्वंय के लिए और अपने परिजनों के लिए ग्रंथ का पंजियन करें!
ग्रंथ का मूल्य 500/-
प्रकाशन पूर्व मूल्य 400/- (30 नवम्बर 2019 तक)

पंजियन के लिए कृपया फोटो पर क्लिक करें

%d bloggers like this: