राजनीतिक परिपक्वता समय की जरूरत

Continue Reading राजनीतिक परिपक्वता समय की जरूरत

कोरोना महामारी जैसे संकट से जब सारा देश सफलता पूर्वक लड़ रहा है उस समय विस्तारवादी और अधिनायकवादी चीन द्वारा खड़ी की हुई इस चुनौती की घड़ी में सम्पूर्ण भारतीय समाज को एकता का परिचय देना चाहिए, और दे भी रहा है। सभी दलों को भी राजनैतिक परिपक्वता दिखानी चाहिए। यह राजनैतिक हानि-लाभ या एक दूसरे की हार-जीत तय करने का समय नहीं है।

डॉक्टर हेडगेवार एक महान दृष्टा

Continue Reading डॉक्टर हेडगेवार एक महान दृष्टा

चुनाव के समय भारत में युद्ध सी स्थिति दिख रही थी। अब सारी धूल बैठने के बाद चित्र स्पष्ट हो गया है। देश की जनता ने राष्ट्रीय पक्ष को मज़बूत समर्थन दे कर सत्तासीन किया है। आरोप-प्रत्यारोप के घमासान में विभाजनवादी राजनीति करने  वाले खेमे से राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ पर भी अकारण-आधारहीन आरोप लगते रहे।

कोयला क्षेत्र लिख रहा है भारत की विकास गाथा

Continue Reading कोयला क्षेत्र लिख रहा है भारत की विकास गाथा

पिछले चार वर्षों में कोयले के क्षेत्र ने अभूतपूर्व रफ्तार पकड़ी है।  पारदर्शिता, प्रौद्योगिकी और बेहतर परिवहन से, मोदी सरकार एक ऐसा कोयला क्षेत्र विकसित करने के लिए प्रतिबद्ध है जो हमारे लोगों के लिए एक कुशल, किफायती और सुरक्षित ऊर्जा भविष्य को सुनिश्चित करता है।

जीएसटी आम आदमी के लिए बहुत अच्छा

Continue Reading जीएसटी आम आदमी के लिए बहुत अच्छा

विरोध करने वाले भले बदलावों को जीएसटी की अधूरी तैयारी का नाम देते रहें, लेकिन कर का पूरा ढांचा ही बदल देने वाली प्रणाली को सुचारु होने में कुछ महीने तो लगेंगे ही। दीर्घावधि में जीएसटी सब के लिए लाभप्रद ही होगा। पिछले करीब आठ महीने से देश भर में जो भी नाम सुर्खियों में रहे हैं, उनमें जीएसटी काफी आगे है। जीएसटी यानी वस्तु एवं सेवा कर आजादी के बाद का सब से बड़ा कर सुधार है, जिसे लागू करने के लिए सरकारों को बहुत मशक्कत भी करनी पड़ी है। वास्तव में यह क्रांतिकारी कदम है, इसलिए इसका जम कर समर्थन भी किया जा रहा

End of content

No more pages to load