भारत भी कोरोना की चपेट में

चीन के साथ साथ कोरोना वायरस अब भारत में भी पैर पसार चुका है चीन के हालात तो बहुत ही बुरे हो चुके है खबरों की मानें तो चीन में अब तक तीन हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है वहीं दुनियाभर के करीब 50 देश इस वायरस से संक्रमित हो चुके है जिसमें भारत भी शामिल है। मंगलवार तक की बात करें तो भारत में कोरोनावायरस से संक्रमित 6 लोगों की पहचान हो चुकी है जिसमें सबसे ज्यादा उत्तर प्रदेश के लोग है।

इसके साथ ही दिल्ली और नोएडा के कई स्कूलों को बंद कर दिया गया है क्योंकि कुछ बच्चों के परिवार के लोग इस वायरस से संक्रमित हो चुके है जिसके बाद सावधानी बरतते हुए सरकार ने स्कूल बंद करने का फैसला लिया है। सरकार की तरफ से कोरोनावायरस से बचने की तैयारी जोरों पर है और खबरों की मानें तो सरकार ने इसके लिए सेना को भी तैयार रखा है। थल सेना, नेवी, और एयरफोर्स को एलर्ट पर रखा गया है क्योंकि अगर वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़ी तो सेना को लोगों के लिए एक अलग से अस्पताल तैयार करना होगा और यह सबको पता है कि सेना से अच्छा काम यह कोई और नहीं कर सकता है।

पीएम मोदी ने कोरोनावायरस को लेकर देश की जनता से शांति बनाए रखने को कहा है पीएम ने कहा कि किसी को भी परेशान होने की जरुरत नही है सरकार अपने हिसाब के इससे निपटने के लिए तैयारी कर रही है वहीं राहुल गांधी ने इस बिमारी को लेकर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि सरकार इस समस्या से निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार नही है, राहुल गांधी ने कहा कि अगर इस पर रोक नहीं लगायी गयी तो इससे लोगों के साथ साथ अर्थव्यवस्था पर भी इसका बुरा असर पड़ेगा। राहुल गांधी ने पीएम के ट्वीट छोड़ने के फैसले पर भी चुटकी लेते हुए कहा कि देश कोरोनावायरस से पीड़ित है और पीएम सोशल मिडिया पर मसकरी करने में लगे हुए है।

चीन के साथ साथ भारत के भी बिगड़ते हालात को देखते हुए अब सरकार हर क्षेत्र में एहतियात बरतना शुरु कर चुकी है मंगलवार को सरकार की तरफ से एक एडवाइजरी जारी कर बताया गया कि तीन मार्च या उससे पहले के जारी इटली, ईरान, दक्षिण कोरिया, और जापान के सभी वीजा और ईवीजा रद्द किये जाते है जिन्होने अभी तक भारत में प्रवेश नहीं किया है। इससे पहले पांच फरवरी और उससे पहले के चीन के लिए जारी वीजा और ईवीजा पर भी सरकार ने रोक लगा दिया था।

चीन और भारत सहित करीब 50 देश इसकी चपेट में आ चुके है और इस वायरस से मरने वालों की संख्या में लगातार बढ़ोत्तरी होती जा रही है जिससे हर देश चिंतित है। चीन के बिगड़ते हालात को देखते हुए भारत सरकार भी चिंतित है कि अगर चीन जैसे हालात भारत में हुए तो संभालना मुश्किल हो जायेगा। फिलहाल एहतियात के तौर पर सरकार की तरफ से संक्रमित देशों से आने वाले लोगों का टेस्ट किया जा रहा है जिससे संक्रमित व्यक्ति को आम लोगों के बीच जाने से रोका जा सके।

आपकी प्रतिक्रिया...