इंदौर में डाक्टर की कोरोना संक्रमण से मौत

कोरोना वायरस से भारत में अब तक करीब 150 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है जबकि करीब 6000 लोग इसे संक्रमित हैं लेकिन चिंता की बात यह है किया खुद डॉक्टर भी इसकी चपेट में आने लगे हैं आपको बता दें कि गुरुवार को मध्यप्रदेश के डॉक्टर की भी वायरस के चलते मौत हो गई।
मध्यप्रदेश के इंदौर जिले में डॉक्टर शत्रुघ्न पंजवानी पिछले कुछ दिनों पहले कुरौना पॉजिटिव पाए गए थे जिसके बाद से इंदौर के ही अलग-अलग अस्पतालों में उनका इलाज चल रहा था लेकिन गुरुवार को उनकी मौत हो गई डॉक्टरों ने बताया कि वह किसी भी को रोना संक्रमित मरीज का इलाज नहीं कर रहे थे बावजूद इसके वह करुणा से संक्रमित हो गए उनकी उम्र 62 साल बताई जा रही है वही डॉक्टर कैसे संक्रमित हुए इसकी जांच के आदेश दिए गए हैं। कुछ डॉक्टरों के मुताबिक ऐसी आशंका जताई गई है कि मृतक डॉक्टर किसी संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आए होंगे जिसकी जानकारी ना तो उस संक्रमित व्यक्ति को थी और ना ही डॉक्टर को। मध्य प्रदेश में कोरोना से डाक्टर की मौत की पहली घटना है जिससे डाक्टरों में भी चिंता देखने को मिल रही है।
राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी डाक्टर की मौत पर शोक व्यक्त करते हुए लिखा कि दूसरों के अमूल्य जीवन की रक्षा और कोविड19 के विरुद्ध युद्ध लड़ते हुए बलिदान हो जाने वाले डाक्टर शत्रुग्घ पंजवानी जी की आत्मा की शांति के लिए हम सब प्रदेेशवासी ईश्वर से करबद्ध प्रार्थना करते है।
आप जैसे महामानव को कभी भुलाया न जा सकेगा।
विनम्र श्रद्धांजली।

मध्यप्रदेश में अब तक कोरोना से 22 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 350 से अधिक लोग इससे संक्रमित पाए गए हैं। कोरोना का संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है और इससे अब भारत में भी खतरे का ग्राफ लगातार ऊपर चढ़ता जा रहा है। सरकार की तरफ से लगातार सुझाव और राहत कार्य तेजी पर चल रहे हैं लेकिन बावजूद इसके पिछले सप्ताह से संक्रमण के नंबर में बढ़ोतरी देखने को मिल रही है। कुछ राज्यों में डॉक्टरों के साथ कोरोना संक्रमित लोगों ने मारपीट भी की थी जिससे डॉक्टरों का समुदाय काफी दुखी है। कुछ डॉक्टरों ने इलाज करने से भी मना कर दिया है क्योंकि क्वॉरेंटाइन के दौरान लोग डॉक्टरों का सहयोग नहीं कर रहे हैं। तबलीगी जमात के लोगों ने तो हद ही कर दी है अलग-अलग राज्यों से उनकी शिकायतें मिल रही हैं। तबलीगी जमात के लोग नर्सों के साथ छेड़छाड़ कर रहे है, उनके सामने कपड़े बदलने और अब बोतल में पेशाब भर कर सड़कों पर फेंकने की शिकायत मिल रही है। कुछ जमातियों के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई गई है।

आपकी प्रतिक्रिया...