“मुस्लिम दुकानदार से ना खरीदें सब्जी” वाले बयान पर विधायक को नोटिस

  • भाजपा विधायक सुरेश तिवारी को कारण बताओ नोटिस
  • जेपी नड्डा ने विवादित बयानों से बचने की दी सलाह
  • सुरेश तिवारी ने कहा कोई गलत बयान नहीं दिया
  • मुस्लिम दुकानदार से ना खरीदें सब्जी: सुरेश तिवारी

 

भारतीय जनता पार्टी के विधायक सुरेश तिवारी ने मुस्लिमों से सब्जी ना खरीदने को लेकर बयान दिया जिसके बाद से उनका विरोध शुरु हो गया है। बात बढ़ी तो पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने भी इस मामले में दखल दी और पार्टी विधायक को हिदायत देते हुए कहा कि ऐसे किसी भी विवादित बयान से बचने की कोशिश करें। जेपी नड्डा ने कहा कि हमें जनता ने लोगों की सेवा करने के लिए चुना है बयानबाजी करने के लिए नहीं इसके साथ ही पार्टी की तरफ से विधायक सुरेश तिवारी को कारण बताओ नोटिस भी जारी कर दिया गया है। उत्तर प्रदेश के देवरिया से विधायक सुरेश तिवारी उस समय विवादों में आ गये जब उनका एक ऑडियो क्लिप वायरल होने लगा। विधायक इस ऑडियो में यह कहते हुए सुनायी दे रहे है कि कोई भी मुस्लिम सब्जी वाले से खरीददारी ना करे।
विधायक सुरेश तिवारी ने इस बयान पर सफाई देते हुए अपना पक्ष रखा और कहा कि यह बयान सिर्फ तबलीगी जमात के लिए है इसके साथ ही विधायक ने इस बात पर भी जोर दिया कि उनका बयान गलत नही है उन्होने कहा कि हाल ही में कुछ लोग उनसे मिलने आये थे और शिकायत की थी कि कुछ मुस्लिम दुकानवाले सब्जियों पर थूक लगाकर उसे बेच रहे है जिसके बाद मैने उन्हे यह सलाह दी कि वह उस मुस्लिम की दुकान से खरीददारी ना करें क्योंकि इससे भी कोरोना का संक्रमण बढ़ने का खतरा हो सकता है।
विधायक ने कहा कि जो लोग थूक लगाकर कर सब्जियां बेच रहे है उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हो रही है और मेरे बयान को बढ़ा चढ़ा कर बताया जा रहा है। मैने जो कुछ कहा वह गलत नही है अगर जनता मुझसे कोई सलाह या मदद मांंगती है तो मुझे उनकी मदद करनी होगी। 
वहीं विधायक ने ओवैसी का नाम लेते हुए कहा कि बहुत से मुस्लिम नेता है जो हमेशा हिंदूओं के विरोध में बोलते रहते है लेकिन उनके खिलाफ कोई भी कार्रवाई नही की जाती। बीजेपी विधायक के बयान को लेकर बाकी पार्टियों द्वारा लगातार विरोध किया जा रहा है और बयान को लेकर एफआईआर भी दर्ज करवाई गयी है। अब देखना यह है कि बीजेपी की तरफ से विधायक सुरेश तिवारी के खिलाफ कोई कार्रवाई की जाती है या नहीं।

आपकी प्रतिक्रिया...