सरकार ने हवाई टिकट के दाम किए निर्धारित, जानिए यात्रा के लिए क्या है जरुरी नियम?

  • सरकार ने हवाई टिकट के दाम किए निर्धारित 
  • 25 मई से सिर्फ 33 फीसदी सेवाएं होंगी शुरु
  • यात्रियों को मास्क, दस्ताना, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा
  • हवाई जहाज के अंदर किसी को भी भोजन नहीं दिया जाएगा
 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने आखरी संबोधन में कहा था कि देश में लॉक डाउन 4.0 एक नए रंग रूप के साथ सामने आएगा, जिस का नजारा अब लोगों को दिखने लगा है। कहने के लिए तो पूरे देश में लॉक डाउन जारी है लेकिन सरकार इस दौरान हर दिन एक नई छूट दे रही है। बुधवार को केंद्रीय उड्डयन मंत्री ने जानकारी देते हुए बताया की 25 मई से घरेलू उड़ान शुरू की जाएगी जबकि इससे पहले सरकार की तरफ से ट्रेनों के चलाने का भी ऐलान किया जा चुका है।
 

गुरुवार को केंद्रीय उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने इस पूरे मामले की जानकारी दी, उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर नये नियमों और दिशा निर्देशों के बारे में सभी को सूचित किया। इसके साथ ही एयरलाइन के शुरू होने के बाद सभी के मन में इस बात की जिज्ञासा थी की टिकट के दाम क्या होंगे जिस पर हरदीप सिंह पुरी ने इसकी न्यूनतम और अधिकतम सीमा का भी खुलासा किया और सभी एयरलाइंस को हिदायत देते हुए कहा कि सभी को इसका पालन करना होगा।

केंद्रीय उड्डयन मंत्री ने कहा कि सभी मेट्रो शहरों जैसे दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और चेन्नई के लिए कुछ नियम होंगे जबकि नॉन मेट्रो शहरों के लिए अलग नियम बनाए गए हैं। नए नियमों के तहत शुरुआती दौर में किसी भी एयरपोर्ट का सिर्फ एक तिहाई हिस्सा ही शुरू होगा। सफर के दौरान किसी भी हवाई जहाज में खाना नहीं दिया जाएगा। 25 तारीख से शुरू हो रही उड़ान सेवाओं में सिर्फ 33 फीसदी विमानों को इसकी इजाजत दी गई है। हालांकि पहले से बीच की एक सीट खाली करने की बात को केंद्रीय मंत्री ने नकारते हुए कहा कि अभी तक ऐसा कोई नियम नहीं बनाया गया है।

टिकट और यात्रा का विवरण
वहीं सरकार की तरफ से टिकट को लेकर साफ किया गया कि दिल्ली से मुंबई तक के सफर के लिए कम से कम 3500 और अधिक से अधिक 10000 रुपये तक ही टिकट निर्धारित किया जा सकता है। सभी कंपनियों को अपनी क्षमता अनुसार इसी दायरे में टिकट के दाम तय करने होंगे। सरकार के अनुसार टिकटों के दाम को लेकर जारी किया गया यह नियम अगस्त तक लागू रहेगा। पूरे देश के हवाई रास्तों को सात अलग-अलग भागों में बांटा गया है। इसमें 30 मिनट की यात्रा, 40 मिनट की यात्रा, 90 मिनट की यात्रा, 60 मिनट की यात्रा, 120 मिनट की यात्रा, 150 मिनट की यात्रा, 180 मिनट की यात्रा और 210 मिनट की यात्रा का रूट बनाया गया है।
यात्रियों के लिए नए दिशानिर्देश
  • यात्रियों को अपने निर्धारित समय से 4 घंटे पहले एयरपोर्ट पहुंचना होगा 
  • फ्लाइट छूटने के 4 घंटे के अंदर ही एयरपोर्ट में एंट्री मिलेगी
  • सभी यात्रियों को मास्क, हाथ में दस्ताना और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा
  • सभी एयरपोर्ट और विमान कर्मचारियों को पीटीईटी पहनना अनिवार्य है
  • हवाई जहाज के अंदर किसी को भी भोजन नहीं दिया जाएगा
  • न्यूनतम 3500 और अधिकतम 10000 रुपया किराया दर निर्धारित

आपकी प्रतिक्रिया...