चक्रवात से तबाह हुए दो राज्य, पीएम करेंगे राज्यों का दौरा

  • चक्रवात से तबाह हुआ पं बंगाल और उड़ीसा
  • प्रधानमंत्री शुक्रवार को दोनों राज्यों का करेंगे दौरा
  • ममता सरकार ने मांगी केंद्र से मदद 
  • चक्रवात से करोड़ों का नुकसान
सुपर साइक्लोन अम्फान की वजह से पश्चिम बंगाल और उड़ीसा में भारी तबाही देखने को मिली। दोनों ही राज्यों में इस तूफान की वजह से लाखों करोड़ों का नुकसान हुआ और कई लोगों को जान से हाथ गंवाना पड़ा। वहीं तूफान के 24 घंटे के बाद प्रधानमंत्री मोदी पश्चिम बंगाल और उड़ीसा का दौरा करने जा रहे हैं। प्रधानमंत्री चक्रवात आने के पहले से ही इस पर नजर बनाए हुए हैं। खबरों की माने पश्चिम बंगाल में करीब 72 लोगों की चक्रवात से मौत हो गई। वहीं प्रधानमंत्री का शुक्रवार का होने वाला दौरा राहत भरा हो सकता है। प्रधानमंत्री ऑफिस की तरफ से भी एक ट्वीट कर इसकी जानकारी दी गई और बताया गया शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पश्चिम बंगाल और उड़ीसा का हवाई दौरा करेंगे और चक्रवात से हुए नुकसान का जायजा लेंगे।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार से मदद की अपील की है और कहा है कि इस चक्रवात की वजह से राज्य में भारी तबाही हुई है। ममता बनर्जी ने चक्रवात की वजह से मारे गए लोगों के परिजनों को ढाई ढाई लाख रुपए देने का ऐलान किया है। इसके साथ ही घायलों और चक्रवात से प्रभावित लोगों को भी मदद का भरोसा दिया है। पश्चिम बंगाल में एनडीआरएफ की टीम लगातार सहायता में जुटी हुई है।

चक्रवात की वजह से हजारों की संख्या में पेड़ टूट गए और सड़कों और इमारतों पर आ गिरे जिससे यातायात पूरी तरह से बाधित है एनडीआरएफ की टीम लगातार सड़कों की सफाई में जुटी हुई है ताकि जल्द से जल्द जिंदगी को सामान्य किया जा सके।

चक्रवात तूफान की वजह से पूरे पश्चिम बंगाल में हालात बिगड़ चुके है अगर आप कोलकाता एयरपोर्ट पर नजर डालें तो इस वक्त वह एक झील में तब्दील हो चुका है। कोलकाता एयरपोर्ट पर करीब 5 फीट से अधिक पानी भर गया है। जिससे एयरपोर्ट का बड़ा नुकसान हुआ है और वहां खड़े सभी हवाई जहाज नाव के समान पानी में तैर रहे हैं। चक्रवात की वजह से हुए भारी नुकसान के बाद अब ममता सरकार की नजर केंद्र की तरफ से जारी राहत पर है।

आपकी प्रतिक्रिया...