हिंदी विवेक : we work for better world...

भरौली, गोरखपुर के अपने पैतृक गांव से पांच दशक पहले मुंबई आए श्री आर.एन.सिंह ने व्यवसाय के साथ सामाजिक-शैक्षणिक क्षेत्र में अतुलनीय कार्य किया है। उत्तर भारतीयों के जीवन में आशा की किरण जगाने वाले श्री सिंह ‘हमारा महानगर’ के रूप में मीडिया के क्षेत्र में भी एक दशक से अधिक समय से कार्यरत हैं। हाल में भाजपा की ओर से उन्हें महाराष्ट्र विधान परिषद में भेजा गया है। पेश है उनसे हुई यह बातचीत-

उत्तर प्रदेश से मुंबई तक का सफर किस उम्मीद के साथ आपने शुरू किया था?

रोजगार की तलाश में मैंने मुंबई आने का निर्णय लिया था। इसीलिए इंटर मीडिएट तक की शिक्षा प्राप्त करने के बाद सीधे मुंबई आ गया। १ वर्ष तक प्रकाश कॉटन मिल के लीगल डिपार्टमेंट में नौकरी की। यह बड़ा संघर्ष का दौर था। नौकरी के साथ परिवार का भरण-पोषण एक बड़ी चुनौती थी। मैं और मेरी पत्नी संघर्ष की इस यात्रा में एक-दूसरे का सहारा बने। मुझे खुशी है कि संघर्ष के इस दौर में परिवार और शुभचिंतकों ने मेरा लगातार साथ दिया। मैं हमेशा यह सोचता रहा कि कुछ ऐसा किया जाए, जिससे न केवल मेरा और मेरे परिवार का, बल्कि समाज के हजारों लोगों का भी कल्याण हो सके।

अपने उद्देश्य की पूर्ति के लिए आपने क्या किया?

एक साल नौकरी करने के दरमियान मैं इस नतीजे पर पहुंचा कि इस काम से सामाजिक बदलाव लाना असंभव है। मैंने सिक्युरिटी का व्यवसाय शुरू किया। हमारा यह व्यवसाय लगभग चार दशक का हो गया है। देश के लगभग सभी बड़े शहरों के अलावा कई छोटे शहरों में हमारी सिक्युरिटी की शाखाएं हैं। मुख्य कार्यालय पवई, मुंबई में है। मैंने जब यह व्यवसाय शुरू किया, तब इस व्यवसाय की व्यापकता के बारे में अंदाजा नहीं था। आज बॉम्बे इंटेलिजेंस सिक्युरिटी कंपनी में ७० हजार से ज्यादा लोग काम कर रहे हैं। सीधे तौर पर कहा जाए, तो बॉम्बे इंटेलिजेंस सिक्युरिटी के माध्यम से लाखों लोगों का भरण-पोषण हो रहा है।

व्यवसाय के साथ-साथ समाजसेवा के क्षेत्र में आपने क्या किया?

उत्तर भारतीय संघ का प्रमुख होने के नाते मैं दावे के साथ कह सकता हूं कि इस संगठन द्वारा उत्तर भारतीय लोगों की समस्याओं के समाधान और उनके कल्याण हेतु विभिन्न कार्य किए जा रहे हैं। उत्तर भारतीय संघ के माध्यम से डिग्री कॉलेज और जूनियर कॉलेज चलाए जा रहे हैं। इनमें हजारों बच्चे शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं। असल्फा में एक विद्यालय चलाया जा रहा है। यहां पर हजारों बच्चे पढ़ रहे हैं। इस संस्था में कार्य करने के चलते लोगों से मेरा सीधा जुड़ाव है। समाज के पीड़ित वर्ग के लिए भी संस्था महत्वपूर्ण कार्य कर रही है। आर्थिक सहायता मुहैया कराने में संस्था एक कदम आगे रहती है। प्राकृतिक आपदा के समय हमेशा ही उत्तर भारतीय संघ ने मुख्यमंत्रियों के राहत कोष में लाखों रुपए दान कर पीड़ितों तक राहत पहुंचाने में अपनी भूमिका निभाई है। आर्थिक रूप से कमजोर होनहार बच्चों को मुफ्त शिक्षा मुहैया कराने की जिम्मेदारी संस्था बखूबी निभाती रही है। मेरे नेतृत्व में संघ का अपना बहु-मंजिला भवन निर्मित हुआ। उसमें मेरे स्वर्गीय पिताजी के नाम से एक भव्य वातानुकूलित सभागृह बना। इसका उद्घाटन तत्कालीन मुख्यमंत्री विलासराव देशमुख ने किया था। उसी समय उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री राजनाथ सिंह (वर्तमान गृहमंत्री) ने संस्था को २५ लाख रुपए दिए थे और हमारा मनोबल ऊंचा किया था। संस्था सदैव उनकी ऋणी रहेगी। वहां पूर्व मंत्री स्वर्गीय राममनोहर त्रिपाठी के नाम से एक पुस्तकालय भी कार्यरत है।

अपनी जन्मभूमि उत्तर प्रदेश में आपने क्या कार्य किए हैं?

मैंने अपनी धर्मपत्नी स्वर्गीया रामसखी सिंह की इच्छा के अनुरूप उनके नाम से अपने पैतृक गांव भरौली, गोरखपुर में लड़कियों के लिए जूनियर कॉलेज, डिग्री कॉलेज की स्थापना की। वहां पर सीबीएससी बोर्ड का एक अंग्रेजी माध्यम स्कूल भी संचालित हो रहा है। वहां हजारों की संख्या में छात्राएं शिक्षा ग्रहण कर रही हैं। छात्राओं के आवागमन के लिए बसें भी चलाई जा रही हैं। मैंने वहां भव्य दुर्गा मंदिर और तालाब भी बनवाया है। साथ ही गरीबों, विधवाओं के कल्याणार्थ वहां पर समय-समय पर कंबल वितरण, पेंशन आदि काम भी किए जाते हैं।

मीडिया में आपकी क्या सक्रियता है?

मैं हिंदी दैनिक ‘हमारा महानगर’ का सम्पादक हूं, जिसे हमने ११ साल पहले शुरू किया था। यह पुणे-नासिक से भी प्रकाशित हो रहा है। हमारा रबाले में प्रेस भी है। इस माध्यम से भी हमारी प्राथमिकता जनसेवा है, लाभ कमाना नहीं। हमारा यह दैनिक मुंबई में बसे हजारों हिंदी भाषियों की पसंद है।

हाल ही में आपको भाजपा ने विधान परिषद सदस्य बनाया है। इस पार्टी में आपकी क्या भूमिका होगी?

भाजपा ने मुझे विधायक के रूप में एक नई जिम्मेदारी दी है, जिसके लिए मैं पार्टी, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी, राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस, महाराष्ट्र प्रदेश अध्यक्ष रावसाहेब दानवे और मुंबई भाजपा अध्यक्ष आशीष शेलार का तहेदिल से शुक्रगुजार हूं। मैं भाजपा के लिए पूरे प्राण-प्रण से काम करूंगा। जहां तक उत्तर भारतीय समाज की सेवा की बात है, तो यह मेरा पहला प्यार है। हर रूपमें मैं समाज की एकजुटता, भलाई और उत्थान के लिए अंतिम सांस तक काम करता रहूंगा।

आगामी मनपा चुनाव को आपकिस दृष्टि से देखते हैं?

मुंबई, ठाणे सहित राज्य की कई महानगर पालिकाओं में जल्द ही चुनाव हैं। मुंबई, ठाणे और आसपास की महानगरपालिकाओं में भारतीय जनता पार्टी को पूर्ण बहुमत दिलाने में हम सब सक्रिय रहेंगे। मुझे उम्मीद है कि मुंबई के लाखों उत्तर भारतीय इस बार भी भाजपा को वैसा ही प्यार और समर्थन देंगे, जैसा २०१४ के लोकसभा और विधानसभा चुनाव में दिया था। मुंबई की समस्याओं को दूर करने के लिए भारतीय जनता पार्टी का मनपा पर शासन जरूरी है। महानगर की व्यवस्था सुधारने के लिए सर्वश्रेष्ठ विकल्प भाजपा ही है। शत-प्रतिशत भाजपा का उद्देश्य इस बार हम जन समर्थन से अवश्य हासिल करेंगे। मुझे उम्मीद है कि हम इसमें अवश्य कामयाब होंगे। विकास का नारा लेकर हम महानगरपालिका चुनावों में जनता के बीच जाएंगे।

आपकी प्रतिक्रिया...

Close Menu