हिंदी विवेक : WE WORK FOR A BETTER WORLD...

विवेक परिवार के अलिबाग,रायगड के प्रतिनिधि श्री गणेश गोखले जी है एक स्वयंसेवक के रूप में अपने 75 वर्ष तक के अनुभव और समाज और राष्ट्र के विकास के लिए आंशिक जो योगदान दिया है। उन योगदानों के अनुभवों को ‘संघयात्री’ इस पुस्तक के द्वारा शब्दबद्ध किया है। श्री गणेश गोखले लिखित संघयात्री किताब का विमोचन समारोह वसई में अत्यंत उत्साहपूर्वक माहोल में संपन्न हुआ।
इस प्रकाशन समारोह में हिंदुस्थान प्रकाशन संस्था के अध्यक्ष एवं संघ विचारक श्री रमेश पतंगे जी, वसई के सामजिक कार्यकर्ता एवं सुप्रसिद्ध उद्योजक पुरूषोत्तम पवार एवं हिंदी विवेक के मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री अमोल पेडणेकर उपस्थित रहे।

 

आपकी प्रतिक्रिया...

Close Menu

विगत 6 वर्षों से देश में हो रहे आमूलाग्र और सशक्त परिवर्तनों के साक्षी होने का भाग्य हमें प्राप्त हुआ है। भ्रष्ट प्रशासन, दुर्लक्षित जनता और असुरक्षित राष्ट्र के रूप में निर्मित देश की प्रतिमा को सिर्फ 6 सालों में एक सामर्थ्यशाली राष्ट्र के रूप में प्रस्तुत करने में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी की अभूतपूर्ण भूमिका रही है।

स्वंय के लिए और अपने परिजनों के लिए ग्रंथ का पंजियन करें!
ग्रंथ का मूल्य 500/-
प्रकाशन पूर्व मूल्य 400/- (30 नवम्बर 2019 तक)

पंजियन के लिए कृपया फोटो पर क्लिक करें

%d bloggers like this: