गृहस्थी

Continue Reading गृहस्थी

आज तनुज की बेरुखी हार गई थी और घरवालों का प्यार जीत गया था... आखिर जैसा भी है लेकिन मेरे बच्चों का पिता है वो, और गृहस्थी में तो छोटे-मोटे झगड़े चलते ही रहते हैं। इसका मतलब ये तो नहीं न कि हम रिश्तों से पलायन ही कर जाए..

End of content

No more pages to load