जम्मू-कश्मीर में 4 आतंकी ढेर

जम्मू-कश्मीर में आर्टिकल 370 के खात्मे और राज्यों के लोकल नेताओं के अंडरग्राउंड होने के बाद से घाटी में आतंकी हमले में कमी देखने को मिल रही है। जबकि पहले इसका आकड़ा काफी ज्यादा था। लेकिन आतंकी अभी भी अपनी हरकत से बाज नहीं आ रहे है और मौका मिलते ही हमला शुरु कर देते है। शनिवार को एक बार फिर आतंकियों ने हमले की कोशिश की, जिसका भारतीय सेना ने मुहतोड़ जवाब दिया। घाटी के कुलगाम इलाके में आतंकियों के छिपे होने की सूचना के बाद सेना ने सर्च ऑपरेशन शुरु किया। लेकिन आतंकियों को जैसे ही खुद पर खतरा नजर आया उन्होने सेना पर फायरिंग झोंक दी। सेना ने आतंकियो का मुहतोड़ जवाब दिया और 4 आतंकियों को मार गिराया। फिलहाल सेना का सर्च ऑपरेशन अभी भी जारी है। इस ऑपरेशन में स्थानीय पुलिस, स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप और राष्ट्रीय राइफल्स के जवान शामिल है।

सेना द्वारा मारे गये आतंकियों की पहचान अभी तक नहीं हो पायी है कि यह आतंकी किस संगठन से ताल्लुक रखते है। सेना ने मारे गये आतंकियों के पास से हथियार और गोला बारूद बरामद किये गये है। आतंकियों के मारे जाने के बाद जम्मू कश्मीर पुलिस ने एक ट्वीट किया जिससे यह पता चला कि हाल ही में आतंकियो ने तीन लोगों की हत्या की थी।

आतंकियों की तरफ से हमले की कोशिश लगातार जारी रहती है। उन्हे जैसे ही मौका मिलता है वह हमले के अंजाम देते है। इससे पहले 15 मार्च को अनंतनाग में एक घर में 4 आतंकी छिपे थे जिसकी सूचना सुरक्षा बलों को मिलने के बाद उन्होने सर्च ऑपरेशन शुरु किया और आतंकियों को घर के बाथरुम से ढूंढ निकाला जहां वह एक गड्ढा बनाकर छिपे थे। जिसके बाद सेना के जवानों ने वहीं पर उनका इनकाउंटर कर दिया।

सेना से मिली जानकारी के मुताबिक यह इस साल का नौंवा इनकाउंटर था। इससे पहले सेना और पुलिस बल ने संयुक्त रुप से 8 इनकाउंटर किये थे जिसमें करीब 30 आतंकियों को मार गिराया था। जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 के हटने के बाद से वहां आतंकी घटनाओं में कमी देखने को मिल रही है। 

आपकी प्रतिक्रिया...