कोरोना को लेकर अमेरिका ने मांगी भारत से मदद, ट्रंप ने मांगी भारत से यह दवा

चीन के वुहान से शुरू हुआ कोरोनावायरस अब पूरी दुनिया में फैल चुका है। चीन के बाद इटली और अब अमेरिका इसके कहर को झेल रहा है वर्तमान में संक्रमण और मौत के मामले में अमेरिका सबसे ऊपर पहुंच चुका है। अमेरिका में कोरोना से संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है साथ ही मौत के आंकड़े भी दिल दहला देने वाले हैं। अमेरिका में 3 लाख से ज्यादा लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके हैं जबकि 8 हजार से ज्यादा लोगों की अब तक मौत हो चुकी है। वही मुसीबत की इस घड़ी में अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारत से मदद मांगी है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से फोन पर बात करते हुए हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन (Hydroxychloroquine) टैबलेट्स मुहैया कराने का अनुरोध किया है।

अमेरिकी राष्ट्रपति ने मोदी से बातचीत के दौरान कहा कि उन्हें यह पता है कि भारत एक बड़ी जनसंख्या वाला देश है इसके लिए उन्हें भी इस दवा की जरूरत है लेकिन भारत को बाकी लोगों का भी ख्याल रखना होगा और इसके लिए भारत को अमेरिका की मदद करनी होगी।  
डोनाल्ड ट्रंप ने कहा भारत बड़ी मात्रा में इस दवा का उत्पादन करता है भारत की जनसंख्या करीब 1 अरब से ज्यादा है भारत को अपने लोगों के लिए भी इसकी जरूरत होगी। मैंने प्रधानमंत्री मोदी से कहा है कि अगर वह हमारे आर्डर को जल्दी भेजते हैं तो मैं उनका हमेशा आभारी रहूंगा। आपको बता दें कि हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन (Hydroxychloroquine) का इस्तेमाल करोना मरीजों के इलाज के लिए किया जा रहा है। इस दवा के इस्तेमाल से कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों को आराम मिल रहा है। वैसे यह दवा मलेरिया से पीड़ित लोगों के ठीक करने में काम आती है।
कोरोना वायरस से पूरी दुनिया में करीब 12 लाख से ज्यादा लोग पीड़ित हैं और अभी भी संक्रमण का खतरा लगातार बढ़ता जा रहा है वहीं पूरी दुनिया में करीब 65 हजार से ज्यादा लोगों की मौत भी हो चुकी है और इस आंकड़े पर भी अभी तक कोई रोक नहीं लग पा रही है। अमेरिका सहित विश्व के तमाम डॉक्टर और वैज्ञानिक दिन रात कोरोना वायरस से इलाज के लिए दवा ढूंढने में लगे हुए हैं। इस महामारी ने अब तक लाखों लोगों को संक्रमित कर दिया हैं और हजारों की जान ले चुका है।

आपकी प्रतिक्रिया...