पंजाब: निहंगों ने तलवार से काटा पुलिस का हाथ

हेडलाइन-
पंजाब के पटियाला में निहंगों और पुलिसवालों के बीच हुई लड़ाई
निहंग समुदाय ने तलवार से काटा पुलिसकर्मी का हाथ 
गुरुद्वारे से 7 निहंगों को कमांडों की मदद के किया गया गिरफ्तार
पूरा देश एक तरफ कोरोना से बुरी तरह से जूझ रहा है वहीं दूसरी तरफ पंजाब में एक दर्दनाक हादसा सामने आया है जहां सिख समुदाय के निहंगों और पुलिसकर्मियों के बीच टकराव देखने को मिला है। मामला पटियाला जिले का है जहां रविवार सुबह सब्जी मंडी के बाहर पुलिसकर्मी वाहनों की चेकिंग कर रहे थे और सब्जी मंडी में जाने के लिए गाड़ियों के पास देखे जा रहे थे। इसी बीच पुलिस ने एक गाड़ी को रोककर पास दिखाने के लिए कहा लेकिन इसी बीच कहासुनी शुरु हो गयी। जिसके बाद निहंग समुदाय में पुलिसकर्मियों पर हमला बोल दिया। हमले में निहंगों ने तलवार से एक पुलिसकर्मी का हाथ काट दिया जबकि दो पुलिसकर्मी बुरी तरह से जख्मी हो गए। वहीं हाथ कटने के बाद पुलिसकर्मी को चंडीगढ़ पीजीआई हॉस्पिटल में रेफर किया गया है जबकि दोनों घायलों को अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती करवाया गया है। इस हमले के बाद हमलावर निहंग गुरुद्वारा खिचड़ी साहब में जाकर छिप गए और वहां से गोलीबारी भी करनी शुरू कर दी जिसके बाद कमांडो ने मोर्चा संभाला और गुरुद्वारे से सभी सातों आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। जबकि बाकी लोगों की खोज अभी भी जारी है। वहीं निहंग समाज के प्रमुख ने कहा कि सिर्फ निहंगों का चोला पहनने से निंहंग नहीं बना जा सकता यह समूह लोगों की सेवा के लिए बनाया गया था। जिन लोगों ने हमला किया वह गुडे है।
एसएसपी मनदीप सिंह के द्वारा मिली जानकारी के मुताबिक एक गाड़ी में पांच निहंग सवार होकर सब्जी मंडी पहुंचे थे जहां मंडी स्टाफ ने इनकी गाड़ियों को रोक कर कर्फ्यू पास दिखाने के लिए कहा, ताकि मंडी में बिना वजह भीड़ इकट्ठा ना हो। जिसके बाद इन लोगों ने मंडी स्टाफ से झगड़ा करना शुरू कर दिया और बैरिकेड तोड़कर भागने की कोशिश करने लगे लेकिन पुलिस ने इनकी गाड़ियां रोक दी और उन्हें घेर लिया जिसके बाद निहंग लोगों ने पुलिस पर हमला बोल दिया। आप को बतादें कि निहंग वह समुदाय होता है जो परंपरागत हथियार रखता है और नीली वाली लंबी कमीज पहनता हैं।

आपकी प्रतिक्रिया...