जानिए, 20 अप्रैल से कौन-कौन से काम शुरु होंगे?

हेडलाइन
  • 20 अप्रैल से कुछ कामों के लिए मिल रही छूट
  • बाहर बिना मास्क के ना निकलें
  • बार बार हाथ को धोते रहें और सेनेटाइजर का इस्तेमाल करें
  • भीड़-भाड़ वाली जगहों से बचें 
देश में लगातार बढ़ते कोरोना वायरस के संक्रमण को देखकर सरकार ने लॉक डाउन को 3 मई तक के लिए बढ़ा दिया है। मंगलवार को प्रधानमंत्री मोदी ने अपने देश के संबोधन के दौरान लॉक डाउन बढ़ाने के साथ ही इस बात की भी घोषणा की थी कि 20 अप्रैल के बाद कुछ इलाकों से लॉक डाउन में नरमी की जायेगी क्योंकि लॉक डाउन की वजह से अर्थव्यवस्था में लगातार कमजोरी आ रही है जिससे बहुत सारे लोग बेरोजगार हो रहे हैं। हालांकि लॉक डाउन को संक्रमण के आधार पर कम किया जायेगा जिस भी इलाके में सक्रमण कम होगा वहां लॉक डाउन में नरमी बरती जायेगी। बुधवार को सरकार की तरफ से इसके लिए एडवाइजरी जारी की गयी जिसमें यह साफ किया गया कि 20 अप्रैल से कुछ कामों में छूट मिल सकती है। लेकिन इस दौरान भी कुछ जरुरी बातों का ध्यान रखाना होगा। जैसे बाहर निकलने पर मास्क लगाना, काम करने वाली जगहों पर सेनेटाइज प्रतिदिन किया जाना, सिफ्ट में काम करवाना, कैंटीन, वाशरुम, सीढ़ी और आने जाने वाले रास्तों सहित उन तमाम जगहों पर विशेष ध्यान देना जहां से कई लोगों का आना जाना होता है।

20 अप्रैल से निम्न कामों पर मिलेगी छूट-
कृषि और उससे जुड़े कार्य
कुछ औद्योगिक गतिविधियां 
डिजिटल इकोनामी 
जरूरी सामानों के लिए परिवहन 
कीटनाशक दवा-बीज का निर्माण और वितरण 
दूध की सप्लाई और दूध से बने सामान
चाय-कॉफी और रबर प्लांटेशन 
ग्रामीण क्षेत्रों में फूड प्रोसेसिंग
सड़क निर्माण, सिंचाई प्रोजेक्ट
ग्रामीण क्षेत्रों में इमारत का काम
मनरेगा का काम, सिंचाई और जल संरक्षण से जुड़ा काम
हार्डवेयर निर्माण का काम
जरूरी सामानों की पैकेजिंग
कोयला-मिनरल और तेज से जुड़े प्रोडक्शन
रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया, बैंक, एटीएम और इंश्योरेंस कंपनियां
ई-कॉमर्स कंपनी,आईटी और डाटा व कॉल सेंटर
ऑनलाइन टीचिंग और डिस्टेंस लर्निंग 
स्वास्थ्य सेवाएं और सोशल सेक्टर
 
लॉक डाउन में पूरी तरह से बंद काम- 
हवाई सड़क और रेल यात्रा
शैक्षिक और ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट 
हॉस्पिटैलिटी सर्विसेज, सिनेमा हॉल, थिएटर, होटल, शॉपिंग कंपलेक्स  
औद्योगिक और कमर्शल गतिविधियां
सामाजिक, राजनीतिक, धार्मिक और सम्मेलन
सरकार ने उन क्षेत्रों में ढील देने की बात कही है जहां पर कोरोना के संक्रमण काफी कम है। इसके साथ ही सरकार ने इस बात का भी ध्यान रखा है कि जिन उद्योगों में कम लोगों से काम शुरू किया जा सकता है उसको पहले खोलने की इजाजत दी गयी है जबकि भीड़भाड़ वाले कामों और जगहों पर अभी भी लॉक डाउन का सख्ती से पालन करने के लिए कहा गया है। कुल मिलाकर लगातार बढ़ते संक्रमण पर पाबंदी लगाना जरूरी है वरना देश एक मुसीबत में पड़ सकता है। मोदी ने अपने भाषण के दौरान भी कहा था की सरकार ने समय रहते हैं जरूरी कदम उठा लिए थे वरना हमारी हालत भी चीन और अमेरिका जैसी हो सकती थी जिस पर लगाम लगाना थोड़ा मुश्किल हो जाता।

This Post Has 2 Comments

  1. Anonymous

    shayad open honge lekin aap office me pata kar lo ya fir twitter se confirm kar lo…

  2. KAMLESH KUMAR PANCHAL

    Lic office 20 april open ho jaye ge kya sirji

आपकी प्रतिक्रिया...