17 मई के बाद नये नियम के साथ जारी रहेगा लॉक डाउन4.0

  • प्रधानमंत्री ने देश को किया संबोधित
  • 17 मई के बाद भी जारी रहेगा लॉक डाउन
  • मोदी ने कहा लोकल प्रोडक्ट को दें बढ़ावा
  • 20 लाख करोड़ के आर्थिक पैकेज का ऐलान
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को देश को संबोधित किया। इस दौरान प्रधानमंत्री ने सभी को देश में फैली महामारी से रूबरू करवाया और कहा कि पूरी दुनिया इस महामारी से परेशान है बड़े से बड़ा देश इस एक वायरस से पूरी तरह से टूट चुका है लेकिन भारत एक बड़ी जनसंख्या के साथ इस दुश्मन से लड़ने के लिए तैयार है। प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन के दौरान कई सारे एलान किए।
कोरोना वायरस भारत के लिए एक अवसर
प्रधानमंत्री मोदी ने देश के तमाम लोगों की तारीफ करते हुए कहा कि जहां पूरी दुनिया इस महामारी से परेशान है वहीं भारत इसे भी एक अवसर के रूप में ले रहा है। मोदी ने उदाहरण देते हुए बताया कि इस महामारी से पहले भारत में एक भी पीपीई किट नहीं बनती थी और N95 मास्क का उत्पादन बहुत ही कम मात्रा में होता था लेकिन कोरोना वायरस की महामारी के बाद पूरे देश में करीब प्रतिदिन 2 लाख से अधिक उत्पादन किया जा रहा है और इससे देशवासियों को मास्क और पीपीई किट आसानी से उपलब्ध हो रही है। मोदी ने कहा कि हमें इस मुश्किल घड़ी से बहुत कुछ सीखना चाहिए हमें आत्मनिर्भर और जिम्मेदार बनना चाहिए।

भारत सरकार की तरफ से 20 लाख करोड़ के आर्थिक पैकेज का ऐलान
महामारी के बाद से अर्थव्यवस्था लगातार बिगड़ती जा रही है जिसको लेकर सरकार, उद्योगपति और आम जनता सभी चिंतित हैं। हालांकि सरकार की तरफ से अब तक कुछ राहत पैकेजों का एलान किया गया है लेकिन आज अपने संबोधन के दौरान प्रधानमंत्री ने एक और आर्थिक पैकेज का ऐलान किया। हालांकि उन्होंने इसकी पूरी जानकारी नहीं दी और यह कहा कि इसकी जानकारी वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जल्द ही लोगों को दे देंगी लेकिन प्रधानमंत्री ने इतना जरूर साफ किया कि इस आर्थिक पैकेज के बाद सरकार की तरफ से अब तक करीब 20 लाख करोड़ रुपए का आर्थिक पैकेज का ऐलान किया जा चुका है। प्रधानमंत्री ने कहा किस आर्थिक पैकेज में लैंड, लेबर, लिक्विडिटी और लॉज सहित सभी का ख्याल रखा गया है। इस आर्थिक पैकेज के माध्यम से छोटे उद्योग, गृह उद्योग और लघु उद्योग जैसे तमाम लोगों को बड़ा फायदा होगा।
17 मई के बाद भी जारी रहेगा लॉक डाउन
प्रधानमंत्री के संबोधन के दौरान सभी की नजर इस बात पर थी कि क्या 17 मई के बाद भी लॉक डाउन को आगे बढ़ाया जाएगा या नहीं, वहीं प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में स्पष्ट कर दिया कि देश में 17 मई के बाद भी लॉक डाउन जारी रहेगा लेकिन उन्होंने यह भी कहा कि लॉक डाउन 4.0 नए नियमों और नई रूपरेखा के साथ सामने आएगा और इसकी जानकारी 18 मई से पहले सभी को दे दी जाएगी। इससे पहले प्रधानमंत्री ने सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से लॉक डाउन को लेकर सलाह मांगी थी और लॉक डाउन 4.0 उसी के आधार पर तैयार किया जा रहा है।

मोदी ने कहा लोकल सामान को बढ़ावा दें
अपने संबोधन के दौरान प्रधानमंत्री ने कहा कि इस मुसीबत के दौरान हम अपने खुद के प्रोडक्ट को और मजबूत करेंगे जिससे हमारी आत्मनिर्भरता बढ़ेगी और इससे भारत विकास की तरफ तेजी से आगे बढ़ेगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारे पास साधन और सामर्थ्य दोनों है हमारे पास देश में बेहतरीन टैलेंटेड लोग भी हैं हम बेस्ट प्रोडक्ट बना सकते हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि हमें अपने लोकल प्रोडक्ट को महत्व देना चाहिए नामचीन और ब्रांडेड प्रोडक्ट भी कभी लोकल ही थे लेकिन जनता की मांग ने उन्हें ब्रांडेड बना दिया। मोदी ने कहा कि सभी को लोकल प्रोडक्ट पर ध्यान देना चाहिए और उसका प्रचार करना चाहिए इससे ना सिर्फ आप के इलाके में रोजगार के अवसर पैदा होंगे बल्कि देश को भी इससे फायदा होगा।

आपकी प्रतिक्रिया...