4.0 लॉक डाउन में महाराष्ट्र सरकार नहीं उठा रही छूट का जोखिम, ग्रीन जोन को मिली राहत

  • लॉक डाउन में महाराष्ट्र सरकार नहीं उठा रही छूट का जोखिम
  • उद्धव ठाकरे ने लॉक डाउन निर्देशों का करें पालन
  • 4.0 लॉक डाउन में सिर्फ ग्रीन जोन को मिली राहत 
  • मुख्यमंत्री ने कहा ग्रीन जोन के भरोसे है अर्थव्यवस्था
पूरे देश में लॉक डाउन 4.0 लागू होने के बाद ज्यादातर राज्यों में राहत देखने को मिल रही है लेकिन महाराष्ट्र के हालात दिन प्रतिदिन बिगड़ते ही जा रहे हैं। सोमवार को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने विधान परिषद सदस्य की शपथ ली लेकिन इस दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि महाराष्ट्र के हालात काफी अच्छे नहीं है इसलिए हम राज्य के लोगों को ज्यादा राहत नहीं दे रहे हैं। उद्धव ठाकरे ने कहा कि हम सिर्फ ग्रीन जोन के लोगों को राहत दे रहे हैं और उनसे अपील भी करते हैं कि वह राज्य का सहयोग करें और ज्यादा से ज्यादा कारखानों को शुरू करें। उद्धव ठाकरे ने कहा की लॉक डाउन 4.0 के दौरान केंद्र सरकार ने सभी राज्यों को रेड, ग्रीन और ऑरेंज ज़ोन डिसाइड करने की छूट दी है लेकिन हम चौथे चरण में भी किसी तरह की छूट नहीं दे रहे हैं क्योंकि हम लोगों की जान को जोखिम में नहीं डाल सकते।

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा कि राज्य में बढ़ते संक्रमण को देखते हुए छूट देना नामुमकिन है हालांकि उन्होंने ग्रीन जोन में रहने वालों को और अधिक छूट देने की बात कही, साथ ही ग्रीन जोन के लोगों से निवेदन किया कि अब ज्यादा से ज्यादा उद्योगों को शुरू करें जिससे महाराष्ट्र की अर्थव्यवस्था धीरे-धीरे पटरी पर आए। इसके साथ ही बड़ी संख्या में मजदूरों के चले जाने का भी दुख प्रकट किया और कहा कि अब कम लोगों को ही ज्यादा काम करना होगा। उद्धव ठाकरे ने कहा विदेश से लॉक डाउन कब खत्म होगा इसका जवाब किसी के पास नहीं है जब तक कोरोनावायरस पूरी तरह से खत्म नहीं होता तब तक लॉक डाउन के खत्म होने की कोई गुंजाइश नहीं है और अब हमें लॉक डाउन के साथ ही जीना होगा। मुख्यमंत्री ने सभी से गुजारिश करते हुए कहा कि इस महामारी को कोई भी हल्के में ना लें और सरकार की तरफ से जारी दिशा-निर्देश का कड़ाई से पालन करें खासकर मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का विशेष ध्यान रखें।
महाराष्ट्र में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 33 हजार से अधिक हो चुकी है जबकि सिर्फ मुंबई में 20 हजार से ज्यादा लोग इससे संक्रमित है। पूरे देश में करीब 97 हजार से अधिक लोग इस महामारी से संक्रमित हैं और पिछले कुछ सप्ताह से संक्रमण में तेजी देखने को मिल रही है। पिछले 24 घंटे की बात करें तो 5242 लोग इससे संक्रमित पाए गए हैं।

आपकी प्रतिक्रिया...