अब हर दिन चलेगी 400 श्रमिक ट्रेनें और 1 जून से शुरु होंगी 200 नई ट्रेनें

  • पूरे देश में हर दिन चलेगी 400 श्रमिक ट्रेनें 
  • रेल मंत्री का ऐलान 1 जून से शुरु होंगी 200 नई ट्रेनें
  • 1 जून से चलने वाली ट्रेनें स्लीपर क्लास होंगी 
  • सिर्फ ऑनलाइन टिकट बुकिंग होगी 
लॉक डाउन के चौथे चरण में एक एक कर जनता को छूट दी जा रही है और लॉक डाउन के नियमों को भी कम किया जा रहा है। केंद्र और राज्य की राहत के बाद अब रेल यात्रा में भी बड़ी राहत दी जा रही है। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने जानकारी देते हुए बताया कि 1 जून से 200 अन्य ट्रेनों को शुरू किया जाएगा, यह सभी ट्रेनें पूरे देश में दौड़ेंगी लेकिन ट्रेन के सभी कोच द्वितीय श्रेणी यानी स्लीपर क्लास के होंगे। इन ट्रेनों में एयर कंडीशन कोच नहीं लगाए जाएंगे क्योंकि रेलवे कुछ चुनिंदा रूटों पर पहले से ही एसी ट्रेनें चला रही है।
रेल मंत्री पीयूष गोयल ने एक के बाद एक कई ट्वीट किए और इसके माध्यम से ट्रेनों को लेकर जानकारी साझा की। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट कर लिखा, श्रमिकों के लिए बड़ी राहत, आज के दिन लगभग 200 श्रमिक स्पेशल ट्रेन चल सकेंगी और आगे चलकर यह संख्या बड़े पैमाने पर बढ़ पाएगी।

पीयूष गोयल ने अपने दूसरे ट्वीट में कहा कि, 1 जून से रेल विभाग इन ट्रेनों को अपने नियमानुसार शुरू करेगा लेकिन इनके टिकट की बुकिंग सिर्फ ऑनलाइन ही की जाएगी। इसके अतिरिक्त भारतीय रेल 1 जून से टाइम टेबल के अनुसार प्रतिदिन 200 नॉन एसी ट्रेन चलाएगा जिसकी ऑनलाइन बुकिंग शीघ्र ही शुरू होगी।

मजदूरों के पलायन को लेकर पीयूष गोयल ने सभी राज्य सरकारों से निवेदन किया है कि अगर उन्हें कोई श्रमिक पैदल सड़क से जाते हुए दिखाई देता है तो वह उसे किसी आसपास के स्टेशन तक पहुंचा दें ताकि उसे ट्रेन के द्वारा उसके जिले तक पहुंचाया जा सके।

पीयूष गोयल ने सभी से अपील करते हुए कहा कि जो भी लोग जहां पर हैं वहां से बाहर ना निकले, अगले 2 दिनों में श्रमिक ट्रेनों की संख्या 200 से बढ़ाकर 400 कर दी जाएगी यानी पूरे देश में हर दिन 400 श्रमिक ट्रेनें चलेंगी। रेलवे सभी को सुरक्षित उसके घर तक पहुंचाएगा।

भारत में कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या 1 लाख से ऊपर जा चुकी है। पिछले कुछ दिनों में कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या में तेजी से इजाफा देखने को मिला है। सरकार की तरफ से जैसे-जैसे लोगों को बाहर निकलने की छूट दी गई वैसे ही संक्रमण में तेजी भी देखने को मिली। वहीं सरकार की तरफ से यह भी दावा किया गया है कि पूरे देश में टेस्टिंग भी तेजी से हो रही है जिससे संक्रमण के मामले बाहर आ रहे हैं। जानकारी के मुताबिक सोमवार को पूरे देश में 1 लाख से अधिक लोगों का टेस्ट किया गया अब तक की यह सबसे बड़ी संख्या है।

आपकी प्रतिक्रिया...