लगातार 3 सप्ताह से बढ़ रहे तेल के दाम, राहुल ने ट्वीट कर कहा सरकार ने अनलॉक की कीमतें

  • राहुल गांधी ने तेल कीमतों को लेकर सरकार पर बोला हमला
  • राहुल ने ट्वीट कर कहा सरकार ने अनलॉक की कीमतें
  • राजधानी दिल्ली में पेट्रोल से महँगा हुआ डीजल 
  • लगातार 3 सप्ताह से बढ़ रहे तेल के दाम 
देश में पेट्रोल और डीलज के दामों में पिछले कुछ दिनो से लगातार बढ़ोत्तरी देखने को मिल रही है। विश्व के बाजारों में कच्चे तेल के दाम लगातार नीचे जा रहे है जबकि देश में पेट्रोल और डीजल के दाम लगातार बढ़ते जा रहे है और अब विपक्ष इस मुद्दे को लेकर लगातार सरकार को घेरने पर लगी हुई है। राहुल गांधी लगातार सरकार से सवाल कर रहे है कि जब कच्चे तेल की कीमतों में लगातार गिरावट हो रही है तो फिर इसका लाभ आम जनता को क्यों नहीं मिल रहा है।
 
पेट्रोल-डीज़ल की कीमतों में बढ़ोत्तरी
बुधवार को दिल्ली में ऐसा पहली बार हुआ जब डीजल के बाद पेट्रोल से भी आगे निकल गये। दिल्ली में बुधवार को 48 पैसे की बढ़ोत्तरी के साथ 1 लीटर डीजल की कीमत 79.88 रुपये तक पहुंच गई जबकि बुधवार को पेट्रोल की कीमतों में कोई बढ़ोत्तरी नहीं हुई और एक लीटर पेट्रोल का दाम 79.40 पर टिका है। देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में बुधवार को पेट्रोल की कीमत 86.54 रही जबकि डीजल की कीमत 78.22 रुपये रही। चेन्नई में बुधवार को पेट्रोल की कीमत 83.04 रही जबकि डीजल की कीमत 77.17 रुपये रही।
 
 

तेल कीमतों पर हमलावर राहुल गांधी
तेल की कीमतों में जारी तेजी को लेकर राहुल गांधी लगातार मोदी सरकार पर हमलावर हुए है। बुधवार को राहुल गांधी ने एक ग्राफ शेयर करते हुए ट्वीट किया, मोदी सरकार ने कोरोना महामारी और पेट्रोल डीजल की कीमतें अनलॉक कर दी है। इसके साथ ही राहुल गाधी ने एक ग्राफ शेयर किया है जिसमें कोरोना वायरस, पेट्रोल और डीजल की कीमतों को एक ग्राफ के माध्यम से दर्शाया गया है।

इससे पहले भी राहुल गांधी ने तेल की बढ़ती कीमतों को लेकर एक पुराना आंकड़ा पेश किया था जब मनमोहन सिंह देश के प्रधानमंत्री थे। राहुल गांधी ने ट्वीट करते हुए लिखा था शर्म करो लुटेरी सरकार। राहुल गांधी ने अपने ट्वीट में यह दिखाया है कि मनमोहन सिंह की सरकार में कच्चे तेल के दाम 107 रुपये के करीब थे फिर भी पेट्रोल और डीजल आज की तुलना में कम था फिर जब कच्चे तेल के दाम लगातार गिरते जा रहे है तो फिर लोगों को इसकी राहत क्यों नहीं मिल रही है।

आपकी प्रतिक्रिया...