जम्मू-कश्मीर में CRPF पर आतंकी हमला, 3 जवान शहीद, लश्कर कमांडर ढेर

जम्मू कश्मीर में सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच गोलीबारी आये दिन देखने को मिलती है लेकिन सोमवार का दिन सुरक्षाबलों के लिए दुखद रहा क्योंकि बारामुला इलाके में कुछ आतंकियों ने अचानक से सीआरपीएफ की एक बटालियन पर हमला बोल दिया जिसमें एक अधिकारी सहित 3 जवान शहीद हो गये हालांकि सुरक्षाबलों की तरफ से भी जवाबी कार्यवाही शुरु की गयी और दो आतंकियों को मार गिराया गया जबकि सेना का अभी भी इलाके में तलाशी अभियान जारी है। सेना के मुताबिक इलाके में एक और आतंकी के छिपे होने की सूचना है जिसके लिए सुरक्षाबलों का सर्च ऑपरेशन अभी भी जारी है। 
 

सोमवार को हुए इस आतंकी हमले के दौरान सेना को उस समय बड़ी सफलता हाथ लगी जब उन्होने लश्कर-ए-तैयबा के कमांडर सज्जाद उर्फ हैदर को मार गिराया। सेना को पिछले काफी समय से कमांडर सज्जाद की तलाश थी क्योंकि यह कई सारी घटनाओं में शामिल था। सेना ने मारे गये आतंकियों के पास से बड़ी मात्रा में हथियार भी बरामद किया है जिसमें अत्याधुनिक बंदूकें और कुछ हथगोले शामिल है। 
सेना से मिली जानकारी के मुताबिक सोमवार सुबह आतंकियों ने अचानक से अंधाधुंध फायरिंग शुरु कर दी जिससे जम्मू-कश्मीर पुलिस के एक अधिकारी की मौके पर ही मौत हो गयी जबकि CRPF  के दो जवान घायल हो गये जिन्होंने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। वहीं हमले के बाद आतंकी फ़रार होने में भी कामयाब हो गये लेकिन बाद में सुरक्षा बलों ने पूरे इलाके को घेर लिया और फिर दो आतंकियों को मार गिराया जबकि तीसरे आतंकी की तलाश अभी भी जारी है। 
 
  
इससे पहले 14 अगस्त को भी आतंकियों ने जम्मू-कश्मीर पुलिस को अपना निशाना बनाया था और श्रीनगर के बाहरी इलाके में पुलिस की एक टोली पर फायरिंग की थी जिसमें दो जवान शहीद हो गये थे जबकि पुलिस ने रिहायशी इलाके की वजह से जवाबी फायरिंग नहीं की और आतंकी भागने में सफल रहे। इस घटना पर जानकारी देते हुए पुलिस ने बताया कि इस घटना में जैश-ए-मोहम्मद का हाथ है और आतंकियों की पहचान कर ली गयी है पुलिस जल्द ही आतंकी को मार गिरायेगी।  

आपकी प्रतिक्रिया...