महावीर जयंती: क्या हैं पंचशील सिद्धांत?

Continue Readingमहावीर जयंती: क्या हैं पंचशील सिद्धांत?

भगवान महावीर के जन्मदिवस के अवसर को हम महावीर जयंती के रूप में मनाते है। भगवान महावीर जैन धर्म के अंतिम आध्यात्मिक गुरु थे जिन्हे आज भी पूरी श्रद्धा के साथ पूजा जाता है और उनके उपदेशों का पालन किया जाता है। भगवान महावीर का जन्म आज से करीब ढाई…

पाकिस्तान तक पहुंची मोदी लहर, इमरान हुए मुरीद

Continue Readingपाकिस्तान तक पहुंची मोदी लहर, इमरान हुए मुरीद

नरेंद्र मोदी ने 2014 लोकसभा चुनाव जीता तभी से एक शब्द चर्चा में आया 'मोदी लहर' और उसका जिक्र आज भी होता रहता  है। लोकसभा चुनाव 2014 के बाद से जितने भी चुनाव हुए उसमें मोदी लहर का जिक्र जरुर हुआ और इस लहर ने ऐसे ऐसे लोगों की भी…

संगीत की “स्वर लता” पर विराम!!

Continue Readingसंगीत की “स्वर लता” पर विराम!!

संगीत जगत् से आज एक “स्वर लता” पर विराम सा लग गया अब से एक आवाज गुम सी हो जाएगी। युगों की गायिका कोकिला लता मंगेशकर जी को समाज हमेशा याद रखेगा। लता जी की आवाज आज हमेशा के लिए स्वर्ण युगों के इतिहास में याद रखी जाएगी। उनका गाना…

गुलामी के प्रतीकों से लगाव की दूषित मानसिकता !

Continue Readingगुलामी के प्रतीकों से लगाव की दूषित मानसिकता !

भारत में विभिन्न राष्ट्रीय पर्वों पर ढोए जाने वाले गुलामी के प्रतीक चिन्हों को देश के प्रधानमंत्री  नरेंद्र मोदी की सरकार द्वारा तेजी से  बदला जा रहा है। इससे गुलाम मानसिकता और भारत के बाहर स्थित अन्य राष्ट्रों में अपनी निष्ठाएं रखने वाले दलों व उनके नेताओं में बेचैनी का…

बजट समझने के लिए मानसिकता में बदलाव की आवश्यकता क्यों है?

Continue Readingबजट समझने के लिए मानसिकता में बदलाव की आवश्यकता क्यों है?

हम भारतीयों ने पिछले कुछ वर्षों में बजट अवधारणाओं का एक सेट विकसित किया है, और जब हम पिछले कुछ वर्षों में कीमतों में कटौती या सब्सिडी की बात किए बिना विभिन्न प्रकार के बजट देखते हैं, तो हम, विशेष रूप से वेतनभोगी और मध्यम वर्ग, मानते हैं कि सरकार…

गलवान झड़प पर चीन की खुली पोल, 4 नहीं बल्कि 38 सैनिकों की हुई थी मौत

Continue Readingगलवान झड़प पर चीन की खुली पोल, 4 नहीं बल्कि 38 सैनिकों की हुई थी मौत

भारत और चीन के बीच 3488 किमी लंबी सीमा क्षेत्र है जिसका 1597 किमी लद्दाख में, 1126 किमी अरुणाचल प्रदेश में, 345 किमी उत्तराखंड, 220 किमी सिक्किम और हिमाचल में 200 किमी की सीमा लगती है और इसी सीमा को लेकर विवाद हमेशा से चला आ रहा है। भारत और…

राहुल गांधी ने मोदी की जान को बताया खतरा!

Continue Readingराहुल गांधी ने मोदी की जान को बताया खतरा!

राहुल गांधी ने आम बजट को लेकर एक बार फिर से केंद्र की मोदी सरकार को घेरा और उसे अमीरों की सरकार बताया है। केंद्र सरकार की तरफ से 1 फरवरी को पेश हुए बजट को देश की जनता के लिए एक महत्वपूर्ण बजट बताया गया जबकि विपक्षी दल खासकर…

उत्तर प्रदेश चुनाव में छोटे दलों की भूमिका

Continue Readingउत्तर प्रदेश चुनाव में छोटे दलों की भूमिका

चुनाव आयोग ने 5 राज्यों में चुनाव का ऐलान कर दिया है और इसी के साथ ही सभी दलों का प्रचार अभियान भी तेज हो चुका है लेकिन इस बार विधानसभा चुनाव में छोटे दलों का प्रतिशत अधिक नजर आ रहा है। उत्तर प्रदेश में प्रमुख पार्टी में बीजेपी और…

बजट में अर्थव्यवस्था के सभी अंगो का ध्यान रखा गया

Continue Readingबजट में अर्थव्यवस्था के सभी अंगो का ध्यान रखा गया

वित्त मंत्री  निर्मला सीतारमण द्वारा प्रस्तुत चौथे बजट के बारे में अगर थोड़े शब्दों में कहना हो तो यही कहा जाएगा कि नरेंद्र मोदी सरकार की पहले से चली आ रही दीर्घकालीन लक्ष्य से भारत को मजबूत आर्थिक शक्ति बनाने के लक्ष्य को ही साधने वाला है। उन्होंने अपने भाषण…

यूपी चुनाव: जातियों में बिखरा हिन्दू वोटर

Continue Readingयूपी चुनाव: जातियों में बिखरा हिन्दू वोटर

उत्तर प्रदेश चुनाव में इस बार जातिवाद काफी बड़े पैमाने पर देखने को मिल रहा है हालांकि यह पहली बार नहीं हैं जब जाति का यह खेल हो रहा है बल्कि इससे पहले भी जाति के आधार पर वोट पड़े हैं। सपा और बसपा जैसी पार्टियां पूरी तरह से जाति…

हिंदुत्व की दृष्टि से गोरखपुर का है महत्व

Continue Readingहिंदुत्व की दृष्टि से गोरखपुर का है महत्व

मीडिया एवं विपक्षी दलों के बीच उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गोरखपुर से उम्मीदवार बनने से ज्यादा चर्चा अयोध्या से उनके चुनाव नहीं लड़ने की है। पिछले कई दिनों से अलग-अलग तरीकों से अलग-अलग विशेषण दिया जा रहा है कि आखिर वे अयोध्या से क्यों नहीं लड़े? चुनाव…

विश्व मानचित्र पर भारत का बढता प्रभाव 

Continue Readingविश्व मानचित्र पर भारत का बढता प्रभाव 

हाल के वर्षों में, भारत की नकारात्मक छवि दुनिया भर में सकारात्मक हो गई है।  दुनिया के नेताओं और लोगों की भारत, इसके लोगों, सांस्कृतिक विरासत और सबसे महत्वपूर्ण निस्वार्थ सेवा, योग, ज्ञान और आध्यात्मिक अभ्यासों के बारे में एक बहुत ही सकारात्मक धारणा बनी है। हम भारतीय के रूप…

End of content

No more pages to load