सर्दियों में रहे स्वस्थ व सुन्दर

ऐसे कई लोग हैं जो जवान होते हैं लेकिन उनका चेहरा चमकदार नहीं दिखता है और बहुत कम उम्र में ही उनके चेहरे पर फिकापन साफ दिखाई देने लगता हैं। कई लोग सर्दियों में त्वचा के सूखने की शुरुआत का सामना करते हैं। इसलिए सर्दियों में आपको अपने आहार में कुछ फलों और खाद्य पदार्थों को शामिल करना चाहिए –

सर्दी प्रतिरक्षा और स्वास्थ्य हासिल करने का मौसम है। लेकिन अगर आप इस बीच अपनी त्वचा की अच्छी देखभाल नहीं करते हैं, तो यह मौसम आपकी त्वचा के लिए बुरा हो सकता है। इसलिए, इस दौरान संतुलित आहार के साथ त्वचा की देखभाल आवश्यक है।

खूबसूरत दिखना कई बार मुश्किल हो सकता है। क्योंकि जब तक आप उस मौसम के लिए खुद को तैयार करते हैं, तब तक वह मौसम बदल जाता है। याद रखें कि आपके बाल और त्वचा साल भर अच्छे रहें, इसके लिए चेहरे पर विशेष ध्यान रखना चाहिए। सर्दियों में, त्वचा बहुत शुष्क हो जाती है। त्वचा की नमी बनाए रखने के लिए पर्याप्त पानी पिएं। मॉइस्चराइजर लगा लें। चेहरे पर ग्लिसरीन और कोल्ड क्रीम लगाएं। जितना अधिक समय आप ठंड में त्वचा की देखभाल करेंगे, त्वचा उतनी ही खूबसूरत दिखेगी।

त्वचा की देखभाल

घरेलू उपचार करें- घरेलू उपचार बाजारी उत्पादों की तुलना में कहीं अधिक बेहतर और लाभकारी हैं और इसके प्रतिकूल परिणाम का कोई डर नहीं है। नारियल तेल या अन्य किसी भी तेल की कुछ बूंदों को नहाने के पानी में मिलाएं। इससे त्वचा स्वचालित रूप से मॉइस्चराइज करती है। यदि आप घर पर मॉइस्चराइज करना चाहते हैं, तो नींबू पानी, गुलाब जल और ग्लिसरीन समान मात्रा में मिलाकर चेहरे पर लगाए। इसे नियमित रूप से सुबह नहाने के बाद लगाएं जिससे आपकी त्वचा दिन भर मुलायम महसूस करेगी।

त्वचा के प्रकार से स्क्रब करना, जिनकी त्वचा का प्रकार मूल रूप से सूखा है, उन्हें ठंड से अधिक परेशानी होती है। जिन लोगों की त्वचा ऐसी है, उनके लिए शहद और नींबू के रस या चीनी और नींबू के रस से स्क्रब करने से त्वचा की नमी बरकरार रहती है।

रात को और सुबह दूध पिएं। दूध को संपूर्ण आहार कहा जाता है। रोजाना कम से कम दो गिलास दूध पिएं। आप सुबह और रात में एक गिलास दूध पी सकते हैं। बिस्तर पर जाने से पहले, सुबह उठने के बाद चेहरे को गर्म पानी से साफ करें। कच्चे दूध को चेहरे पर लगाने से भी चेहरा मुलायम होता है। सनस्क्रीन लगाए बिना न निकलें। महीने में एक बार फेशियल अवश्य करवाएं। इससे त्वचा को पोषण मिलेगा। सूखी त्वचा पर जल्दी खरोंच लगने का खतरा होता है। चेहरा धोने के बाद टोनर और कोल्ड क्रीम का इस्तेमाल करें।

बालों की देखभाल

इस मौसम में सूखे बाल और अधिक सूख जाते हैं। इससे बचने के लिए हर दो दिन में अपने बालों को धोएं, कंडीशनर लगाएं, बालों को अच्छे से सुखा लें। पसीने और बालों की देखभाल नहीं करने के कारण यह सुस्त हो जाता है। इससे बचने के लिए केस पैथोलॉजिस्ट से सलाह लें। बालों की समस्या को ध्यान में रखते हुए पार्लर से हेयर ट्रीटमेंट कराएं। सप्ताह में एक बार तेल से मालिश करें।

पौष्टिक आहार

ऐसे कई लोग हैं जो जवान होते हैं लेकिन उनका चेहरा चमकदार नहीं दिखता है और बहुत कम उम्र में ही उनके चेहरे पर फिकापन साफ दिखाई देने लगता हैं। कई लोग सर्दियों में त्वचा के सूखने की शुरुआत का सामना करते हैं। इसलिए सर्दियों में आपको अपने आहार में कुछ फलों और खाद्य पदार्थों को शामिल करना चाहिए –

दही

दही से बना सलाद और लस्सी आपकी पाचन क्रिया के लिए फायदेमंद है। यह दही आपकी त्वचा के लिए भी उपयोगी है। चावल के आटे या बेसन को दही में मिला कर चेहरे पर लगाएं। इससे चेहरे के दाग-धब्बे दूर हो जाएंगे।

नींबू –

नींबू का रस न केवल आपके पेट के लिए बल्कि त्वचा के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है। रोजाना निम्बू पानी पीने से आपके पेट की समस्या से राहत मिलेगी। इसके अलावा, आप पानी या ग्लिसरीन में नींबू का रस मिलाकर चेहरे पर लगा सकते हैं। इससे चेहरा चमकदार बनता है।

तरबूज –

ज्यादातर लोग तरबूज खाना पसंद करते हैं। तरबूज का सेवन शरीर के साथ-साथ त्वचा के लिए भी फायदेमंद होता है। आप तरबूज के रस को चेहरे पर भी लगा सकते हैं।

सेब –

भोजन के दौरान रोजाना एक सेब खाना चाहिए। इसके अलावा, आप सेब का रस चेहरे पर भी लगा सकते हैं। सेब से सिरका भी बनाते हैं। सेब का रस चेहरे के लिए बहुत फायदेमंद होता है।

स्वास्थ्य देखभाल

ओलावृष्टि अधिक होने पर सुबह जल्दी और देर रात को बाहर ठंडी हवा से बचें। केवल एक चीज जो आपको करने की आवश्यकता है, वह है बाहर जाते समय स्वेटर, शॉल, मफलर का प्रयोग करें। मुख्य बात यह है कि नाक और कान को कवर करने वाले हेडस्का़र्फ का उपयोग करना है। आज का युवा इसे पसंद नहीं करता; लेकिन ठंडी हवा को नाक और मुंह से गुजरने की अनुमति है, और यह छींकने और बहती नाक को कम कर सकती है।

व्यायाम

यदि आपको पहले से ही व्यायाम करने की आदत नहीं है, तो यह सलाह दी जाती है कि ठंडी में कसरत शुरू करें और धीरे-धीरे व्यायाम का समय और अवधि बढ़ाएं। जब शरीर इसका आदी नहीं होता है तो अत्यधिक तनाव से चोट लगने की संभावना होती है। इसलिए पहले हल्का – फुल्का व्यायाम करना चाहिए जैसे तेज चलना, तैराकी, धूप सेंकना। लचीलापन बढ़ाने के लिए योग, सूर्यनमस्कार और बॉडी का स्टैमिना बढ़ाने के लिए जॉगिंग, ब्रिस्क वॉकिंग, तैराकी तथा मांसपेशियों की ताकत बढ़ाने के लिए अनेक प्रकार के व्यायाम कर सकते है। हालांकि इन अभ्यासों को आपके व्यायाम योजना में आपकी प्रकृति के अनुरूप होना चाहिए। यदि आवश्यक हो, तो आपको प्रशिक्षित जिम ट्रेनर की मदद लेनी चाहिए। सर्दी के मौसम में उचित आहार, नियमित व्यायाम करना, बीमारी को रोकने का एक स्वस्थ तरीका हो सकता है।

आपकी प्रतिक्रिया...