तुलादान ने बढ़ाया मुख्यमंत्री का मान

Continue Readingतुलादान ने बढ़ाया मुख्यमंत्री का मान

समस्त महाजन संस्था के मैनेजिंग ट्रस्टी एवं भारतीय जीवजंतु कल्याण बोर्ड के सदस्य गिरीश भाई शाह ने बताया कि तुलादान को प्रोत्साहित करने के लिए समस्त महाजन संस्था ऐसे कार्यक्रम नित्य करती रही है। ऐसा देखा गया है कि जिन्होंने भी तुलादान में हिस्सा लिया है ऐसे दानवीरों की कीर्ति चारों दिशाओं में फैली है और उनकी यश पताका सदैव फहराती रही है। उनमें से एक,अपने यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी भी हैं, जब वह गुजरात के मुख्यमंत्री थे, तब उन्होंने भी तुलादान किया था और उन्ही के पदचिन्हों पर चलते हुए गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने भी तुलादान कर गोवंश एवं पशुधन संरक्षण के लिए अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया है।

गुजरात सरकार करेगी 900 पांजरापोल का विकास

Continue Readingगुजरात सरकार करेगी 900 पांजरापोल का विकास

गोवंश का पालन-पोषण सहित रक्षा, सुरक्षा एवं संवर्धन हेतु गुजरात सरकार राज्य में स्थित लगभग 900 पांजरापोल का ढांचागत विकास करेगी।

हमारा स्वास्थ्य हमारे हाथ

Continue Readingहमारा स्वास्थ्य हमारे हाथ

हम अपने शरीर में होने वाले कुछ बदलावों को नजरअंदाज कर देते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं  कि इसमें कैंसर के शुरुआती लक्षण हो सकते हैं। आइये कुछ लक्षणों को जानिए और जागरूक रहें...

सर्दियों में रहे स्वस्थ व सुन्दर

Continue Readingसर्दियों में रहे स्वस्थ व सुन्दर

ऐसे कई लोग हैं जो जवान होते हैं लेकिन उनका चेहरा चमकदार नहीं दिखता है और बहुत कम उम्र में ही उनके चेहरे पर फिकापन साफ दिखाई देने लगता हैं। कई लोग सर्दियों में त्वचा के सूखने की शुरुआत का सामना करते हैं। इसलिए सर्दियों में आपको अपने आहार में कुछ फलों और खाद्य पदार्थों को शामिल करना चाहिए -

मोबाइल की लत

Continue Readingमोबाइल की लत

आजकल युवा बिना मोबाइल के रह नहीं सकते। इसने सुविधाएं उपलब्ध तो की हैं; लेकिन उससे कई अधिक विपदाएं पैदा की हैं। किसी चीज की लत लग जाना खतरनाक तो होता ही है।

‘सेव वाटर’ भी राष्ट्रीय अभियान बने – संदीप आसोलकर चेयरमैन, एसएफसी एन्वायरमेन्टल टेक्नोलॉजीस प्रा. लि.

Continue Reading‘सेव वाटर’ भी राष्ट्रीय अभियान बने – संदीप आसोलकर चेयरमैन, एसएफसी एन्वायरमेन्टल टेक्नोलॉजीस प्रा. लि.

नए भारत में ‘सेव टाइगर’ की तरह ‘सेव वाटर’ अभियान भी चलाना चाहिए। प्राकृतिक स्रोतों की रक्षा के साथ सीवेज वाटर पर पुनर्प्रक्रिया में तेजी आनी चाहिए। मोदी सरकार ने इस दिशा में जलशक्ति मंत्रालय बनाकर पहल की है। प्रस्तुत है एसएफसी एन्वायरमेन्टल टेक्नोलॉजीस प्रा. लि. के डायरेक्टर संदीप आसोलकर के साथ नया भारत और जल संरक्षण पर हुई विशेष बातचीत के महत्वपूर्ण अंशः-

पहले सेहत, फिर काम

Continue Readingपहले सेहत, फिर काम

घर और दफ्तर की जिम्मेदारियां संभालती कामकाजी महिलाएं, कई बार खुद के प्रति जिम्मेदारी को गंभीरता से नहीं लेतीं। चूंकि आप पर दोहरी जिम्मेदारी होती है, इसलिए आपको अपनी सेहत के प्रति अधिक गंभीर और सचेत होना चाहिए।

जैसा मौसम वैसा फैशन

Continue Readingजैसा मौसम वैसा फैशन

हर मौसम का अपना एक मिजाज होता है और हमारी कोशिश यह होनी चाहिए कि हम भी मौसम के हिसाब से अपना लिबास तय करें। अतः गर्मी में आप क्या पहनना पसंद करेंगे?

रसोई में मौजूद हैं सौंदर्य प्रसाधन

Continue Readingरसोई में मौजूद हैं सौंदर्य प्रसाधन

क्या स्किन से जुड़ी किसी समस्या के लिए आप डॉक्टर के पास जाती हैं या किसी ब्यूटी प्रोडक्ट का सहारा लेती हैं? बाजार में अलग-अलग तरह की क्रीम्स मौजूद हैं। हमें लगता है कि इसके इस्तेमाल से स्किन सम्बंधी समस्या दूर हो जाएगी। लेकिन ऐसा होता नहीं है।

बच्चों को साथ आप भी सीखें

Continue Readingबच्चों को साथ आप भी सीखें

अभिभावकों को चाहिए कि वे अपने बच्चों के मनोविज्ञान को समझें और तद्नुरूप उनसे बर्ताव करें। उन पर जबरन कोई चीज थोपने का विपरीत असर भी हो सकता है। उनसे ममता और विश्वास के साथ  व्यवहार हो तो अनुशासन भी उनमें अपने-आप आएगा।

ऊटपटांग कपडे पहनना फैशन नहीं

Continue Readingऊटपटांग कपडे पहनना फैशन नहीं

राजनीतिक नेताओं और फिल्मी सितारों के लिए परिधान डिजाइन करने वालेे फिल्म उद्योग के मशहूर डिजाइनर पिता-पुत्र माधव एवं राहुल अगस्ती ने एक विशेष साक्षात्कार में भारतीय फैशन की दुनिया की एक से एक खासियतें उजागर की हैं। दोनों ने माना है कि फैशन ऊटपटांग नहीं होनी चाहिए, स्थान, माहौल, क्षेत्र और समय के अनुरूप होनी चाहिए।

बेमिसाल भारतीय गहनें

Continue Readingबेमिसाल भारतीय गहनें

भारतीय गहनों ने विकास का एक बहुत लंबा सफर तय किया है। लोगों की आवश्यकता के अनुसार नए-नए डिजाइन बाजार में आ रहे हैं, फिर भी पारंपरिक डिजाइन के गहनें आज भी अपने मनमोहक प्रभाव के कारण सबके आकर्षण का केन्द्र हैं।

End of content

No more pages to load