बिहार के सभी पर्यटन स्थलों पर बनेंगे सेल्फी प्वाइंट

राज्य के विभिन्न जिलों में देश-विदेश से आये पर्यटकों के लिए पर्यटन विभाग ने सभी पर्यटक स्थलों पर सेल्फी प्वाइंट बनाने का निर्णय लिया गया है। इसको लेकर सभी जिलों को दिशा-निर्देश दिया गया है, ताकि सभी पर्यटन स्थलों पर अलग-अलग तरह का सेल्फी प्वाइंट बन सकें, जो पर्यटकों को आकर्षित कर सकें। फिलहाल, राजगीर के पांडु पोखर में एक सेल्फी प्वाइंट बना है, जहां पर्यटक जाकर तस्वीर खींचते हैं। बिहार सरकार के पर्यटन मंत्री नारायण प्रसाद ने कहा कि सभी पर्यटन स्थलों पर सेल्फी जोन बनाने का निर्णय लिया गया है, जहां पर्यटक खुद की तस्वीर ले सकें। इसको लेकर जिलों से रिपोर्ट मांगी गई है। अलग-अलग तरह की सेल्फी प्वाइंट बनाया जायेगा।

इस कारण से लिया गया निर्णय :

पर्यटन विभाग के सभी पर्यटन स्थल पर सेल्फी प्वाइंट बनाने के पीछे एक मुख्य मकसद यह है कि पर्यटक उस सेल्फी प्वाइंट पर जाकर फोटो खींच सकें और जब उस तस्वीर को अपने फेसबुक, ट्वीटर या इंस्टाग्राम पर अपलोज करेंगे तो बिहार के पर्यटक स्थलों की ब्रांडिंग होगी। विभाग पर्यटन स्थल की ब्रांडिंग करने के लिए कई योजनाएं बनाकर काम कर रहा है। इसी कड़ी में इस तरह से बिहार के सभी पर्यटन स्थलों को सोशल मीडिया से जोड़ने का निर्णय लिया गया है।

तीन फेज में बांटी गई है योजना : 

विभाग ने इस योजना को फेज में बांटा है। इसमें पहले चरण में पटना, राजगीर, नालंदा, गया, बांका, रोहतास व वाल्मीकिनगर में सेल्फी प्वाइंट बनाये जायेंगे। यह काम अगले माह से शुरू हो जायेगा और इसको लेकर विभागीय बैठक में इस माह के अंत में दोबारा सो होगी।

अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस होगा सूचना केंद्र :

सभी पर्यटन सूचना केंद्रों को आधुनिक सुविधाओं से लैस किया जायेगा। वहां आने-जाने वाले पर्यटकों का आकड़ा भी वहां पर संरक्षित होगा। साथ ही, राज्य के सभी पर्यटन केंद्र में कहां क्या है। इसकी पूरी जानकारी केंद्र पर मिलेगी। वहीं, सेल्फी फ्वाइंट के बारे में भी इन सूचना केंद्र में पैंपलेट के माध्यम से जानकारी दी जायेगी, ताकि लोग वहां तक आराम से पहुंच सकें।

आपकी प्रतिक्रिया...