प्राकृतिक सौंदर्य एवं विरासत से समृद्ध है चंदेरी

Continue Readingप्राकृतिक सौंदर्य एवं विरासत से समृद्ध है चंदेरी

मध्यप्रदेश के जिले अशोकनगर में बेतवा (बेत्रवती) एवं ओर (उर्वसी) नदियों के मध्य विंध्याचल की सुरम्य वादियों से घिरा ऐतिहासिक नगर चंदेरी और उसका दुर्ग हमारी धरोहर है। यह नगर महाभारत काल से लेकर बुंदेलों तक की विरासत को संभालकर रखे हुए है। चंदेरी न केवल अपनी समृद्धि की कहानियां सुनाता है अपितु अपनी…

जम्मू एवं कश्मीर भारत में निवेश का नया केंद्र

Continue Readingजम्मू एवं कश्मीर भारत में निवेश का नया केंद्र

ऐसा कहा जाता है कि जम्मू एवं कश्मीर में धारा 370 लागू करना तत्कालीन नेहरू सरकार की सबसे बड़ी राजनैतिक भूल थी, क्योंकि इसके कारण जम्मू एवं कश्मीर के नागरिकों का अत्यधिक नुक्सान हुआ है। दरअसल पूरे देश में  नागरिकों के हितार्थ भारत सरकार द्वारा चलाई जा रही कई योजनाओं का…

दिव्यांग कल्याणकारी संस्था के दसवीं के छात्रों की धार्मिक यात्रा

Continue Readingदिव्यांग कल्याणकारी संस्था के दसवीं के छात्रों की धार्मिक यात्रा

दिव्यांग कल्याणकारी संस्था के छात्र अयोध्या धाम गए। वहां उन्होंने रामजन्मभूमि सहित सभी देवस्थानों के दर्शन किये। सुबह साढ़े पांच बजे सभी लोग अयोध्या पहुंचे। उनके लिए नियुक्त पुलिस साथ थी। अयोध्या धाम में पुलिस ने संस्था की दोनों बसों को सीधे सरयू नदी के तट पर पहुंचाने की व्यवस्था…

अप्रैल में देश का पहला वैश्विक पर्यटन शिखर सम्मेलन

Continue Readingअप्रैल में देश का पहला वैश्विक पर्यटन शिखर सम्मेलन

भारत हाल में जी-20 की अध्यक्षता कर रहा है और इसी दौरान भारत सरकार के पर्यटन मंत्रालय द्वारा 10 से 12 अप्रैल 2023 को देश का पहला वैश्विक पर्यटन शिखर सम्मेलन देश की राजधानी नई दिल्ली में आयोजित होना है। इस आयोजन में सभी जी-20 के सदस्य देश आमंत्रित होंगे।…

‘हिंदी विवेक’ की जयपुर यात्रा

Continue Reading‘हिंदी विवेक’ की जयपुर यात्रा

हिंदी विवेक परिवार हर साल अपने कर्मचारियों के लिए दो शानदार पिकनिक आयोजन करता है, जिसके अंतर्गत देश के किसी भूभाग का भौगोलिक और सांस्कृतिक अवलोकन करते हैं। जिसका उद्देश्य होता है कर्मचारियों के जैविक परिवार और कार्यस्थल के परिवार का मिलन। यदि कोई संस्था अपनी कर्मचारियों के साथ-साथ उसके…

उत्तर प्रदेश में धार्मिक केंद्रों के विकास पर बल

Continue Readingउत्तर प्रदेश में धार्मिक केंद्रों के विकास पर बल

अयोध्या और काशी के बाद अब प्रदेश सरकार मथुरा, वृंदावन में भी भव्य कॉरिडोर बनाने की ओर अग्रसर है इसके साथ ही प्रदेश में तीर्थयात्राओं को बढ़ावा देने के लिए प्रदेश के सभी छोटे व स्थानीय महत्व के धार्मिक स्थलों का विकास भी किया जा रहा है, जिससे तीर्थ यात्राओं…

नहीं जागे तो जोशीमठ से भी बुरा नैनीताल का हाल होगा

Continue Readingनहीं जागे तो जोशीमठ से भी बुरा नैनीताल का हाल होगा

कल्पना कीजिए... जहां कोई आदमी सो रहा हो उसके बेड के नीचे ही जमीन पर मोटी मोटी दरारें पड़ी हों । रात में उन्हीं दरारों से गड़गड़ाने की जोर जोर की डरावनी आवाजें आ रही हों । और भी खतरनाक बात ये कि पूरा इलाका भूकंप के अतिसंवेदनशील जोन 5…

भूधसांव की वजह से भविष्य को लेकर बेहद चिंतित जोशीमठ

Continue Readingभूधसांव की वजह से भविष्य को लेकर बेहद चिंतित जोशीमठ

भूधसांव की वजह से अपने भविष्य को लेकर बेहद चिंतित हूं, हो सके तो जमींदोज होने से बचा लीजिए.. “मैं जोशीमठ हूँ” आदिगुरु शंकराचार्य जी की तपस्थली ज्योतिर्मठ। सीमांत जनपद चमोली का सरहदी ब्लाँक। विश्व प्रसिद्ध हिम क्रीडा स्थल औली, आस्था का सर्वोच्च धाम श्री बदरीनाथ धाम, हेमकुंड साहिब और…

धार्मिक स्थल पर्यटन क्षेत्र न बनें !

Continue Readingधार्मिक स्थल पर्यटन क्षेत्र न बनें !

हम सबके जीवन में पर्यटन का विशेष महत्व है। इस दुनिया में हम आए हैं तो देश-दुनिया को निकट से देखने की लालसा मन में होनी ही चाहिए। इसी दृष्टि से लोग इधर-उधर जाकर पर्यटन भी करते हैं। संसार में अनेक दर्शनीय स्थल हैं, जिनको लोग देखने जाते हैं ।…

उत्तर प्रदेश : वैश्विक निवेशकों की पहली पसंद

Continue Readingउत्तर प्रदेश : वैश्विक निवेशकों की पहली पसंद

प्रदेश की अर्थव्यवस्था के लिए रखा एक ट्रिलियन डॉलर का लक्ष्य प्राप्त करने के लिए प्रदेश सरकार लगातार काम कर रही है। फरवरी -2023 में लखनऊ में आयोजित होने जा रहे ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट से पहले ही प्रदेश को निवेश के प्रस्ताव मिलने प्रारंभ हो गए हैं। निवेशकों को आकर्षित करने के लिए प्रदेश के मुख्यमंत्री व कैबिनेट के अनेक मंत्री विदेशों का दौरा करने जा रहे हैं। ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट के पूर्व अभी दिल्ली में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया था जिसमें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विश्व भर के निवेशकों से यूपी की बदलती परिस्थितियों का लाभ उठाने का आह्वान किया। मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम में विभिन्न देशों  के राजदूतों, उच्चायुक्तों, उद्यमियों और निवेशकों की उपस्थिति में प्रदेश के बदलते परिवेश को प्रस्तुत किया गया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में निवेश बढ़ाने के लिए नीतिगत बदलाव के साथ ढांचागत सुविधाओं में व्यापक सुधार किया जा रहा है। 

त्रिपुरा के उनाकोटी पहाड़ों की रहस्यमयी मूर्तियां

Continue Readingत्रिपुरा के उनाकोटी पहाड़ों की रहस्यमयी मूर्तियां

उनाकोटी को रहस्यों से भरी है, क्योंकि एक पहाड़ी इलाका है जो दूर-दूर तक घने जंगलों और दलदली इलाकों से भरा है। अब ऐसे में जंगल के बीच में लाखों मूर्तियों का निर्माण कैसे किया गया होगा, क्योंकि इसमें तो सालों लग जाते और पहले तो इस इलाके के आसपास कोई रहता भी नहीं था। यह लंबे समय से शोध का विषय बना हुआ है। उनाकोटि में दो तरह की मूर्तियों मिलती हैं, एक पत्थरों को काट कर बनाई गईं मूर्तियां और दूसरी पत्थरों पर उकेरी गईं मूर्तियां। जिनमें भगवान शिव, देवी दुर्गा, भगवान विष्णु, और गणेश भगवान आदि की मूर्तियां स्थित है। इस स्थान के मध्य में भगवान शिव के एक विशाल प्रतिमा मौजूद है, जिन्हें उनाकोटेश्वर के नाम से जाना जाता है।

उत्तर प्रदेश : पर्यटन से लगेंगे विकास के पंख

Continue Readingउत्तर प्रदेश : पर्यटन से लगेंगे विकास के पंख

प्रदेश सरकार की नई पर्यटन नीति बहुआयामी विकास को धार देने वाली है और यदि इसको सही ढंग से धरातल पर उतारा गया तो प्रदेश में धार्मिक, आध्यात्मिक और सांस्कृतिक पर्यटन नई ऊर्चाइयों को छूने जा रहा है। पर्यटन को बढावा देने के लिए भी निवेशकों को विभिन्न योजनाओं  के अंतर्गत आकर्षित किया जा रहा है।  प्रदेश सरकार ने नई पर्यटन नीति में 22 नई गतिविधियों को जोड़ा है जिसमें बजट होटल, हेरिटेज होटल, स्टार होटल, हेरिटेज होम स्टे, इको टूरिज्म की ईकाइयां, कारवां टूरिज्म, यूनिट, प्रदर्शनी, तीर्थयात्रा, धर्मशालाएं, वेलनेस रिसार्ट, आल वेदर सीजनल कैंप, जलाशय, झील, वेलनेस टूरिज्म तथा  एडवेंचर टूरिज्म को भी शामिल कर लिया गया है। अब पर्यटन का विकास गांवों तक किया जायेगा। प्रत्येक गांव में किसी प्राचीन मंदिर, धरोहर व महापुरूषों से संबंधित स्थलों को चिन्हित करके उस गांव का भी विकास किया जाएगा। अमृत सरोवरों के माघ्यम से भी पर्यटन को बढ़ावा दिया जाएगा। 

End of content

No more pages to load