तेची गुबिन को प्रदान किया गया वन इंडिया अवार्ड

“जिस तरह देश की जाबांज सेना ने अरुणाचल प्रदेश में चीनी घुसपैठ को रोका, ठीक उसी प्रकार वहां पर मतांतरण और धर्मान्तरण रोकने का कार्य अरुणाचल विकास परिषद् के अध्यक्ष तेची गुबिन कर रहे हैं। ऐसे असाधारण व्यक्तित्व को माय होम इंडिया द्वारा ‘वन इंडिया अवार्ड’ दिया जाना बहुत बड़ी बात है। ” उक्त बातें भाजपा के राष्ट्रीय सचिव और माय होम इंडिया के संस्थापक सुनील देवधर ने मुंबई के दादर स्थित सावरकर राष्ट्रीय स्मारक में आयोजित वन इंडिया अवार्ड के वितरण समारोह के दौरान कही देवधर ने आगे बताया कि तेची गुबिन पूर्वोत्तर क्षेत्र के जनजातीय समुदायों के बीच स्वदेश के प्रति श्रद्धा, संरक्षण और संवर्धन की दिशा में अप्रतिम कार्य कर रहे हैं। गुबिन ने 26 जनवरी 2010 को चीन की सीमा से लगे दूरदराज के 91 गावों में तिरंगा फहरवाया था।
इस अवसर पर अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री ने भी चेती गुबिन के कार्यों की भूरि-भूरि प्रशंसा की। साथ ही, मुख्यमंत्री ने मंच से चीन को चेताया कि यह नेहरू नहीं, नरेन्द्र मोदी का भारत है। विचारक तथा चिन्तक रमेश पतंगे ने कहा कि गुबिन अरुणाचल प्रदेश में धर्मान्तरण रोकने की दिशा में कार्य कर रहे हैं। माय होम इंडिया भी वहां पर इसी दिशा में कार्यरत है। इनके कार्य पूर्ण संवैधानिक हैं तथा संविधान की प्रत्येक पंक्ति का पालन करते हैं। कार्यक्रम में वरिष्ठ गायिका अनुराधा पौडवाल ने भी अपने विचार रखे।

Leave a Reply