पंजाब में सेना का विमान मिग 29 हुआ क्रैश, पायलट सुरक्षित

  • सेना का लड़ाकू विमान दुर्घटनाग्रस्त
  • पंजाब में कैश हुए मिग-29 के पायलट सुरक्षित 
  • भारत-पाक सीमा के पास ट्रेनिंग के दौरान हुआ हादसा
  • वायु सेना के अधिकारी कर रहे मौके की जांच 
भरतीय वायुसेना का लड़ाकू विमान मिग 29 शुक्रवार को पंजाब में क्रैश हो गया हालांकि पायलट ने समझदारी दिखाते हुए सुरक्षित लैंडिक कर लिया। लेकिन इस दौरान वह घायल हो गये जिससे बाद पायलट को अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां उनका इलाज जारी है। यह हादसा शुक्रवार दोपहर में पंजाब के नवांशहर जिले में हुआ जब फाइटर प्लेन से ट्रेंनिंग ली जा रही थी। सेना के मुताबिक यह इलाका भारत और पाकिस्तान के बॉर्डर पर आता है और यहां वायु सेना की ट्रेनिंग हर दिन होती रहती है। शुक्रवार को भी ट्रेनिंग के दौरान लड़ाकू विमान मिग 29 में तकनीकी खराबी आने से वह दुर्घटनाग्रस्त हो गया। इस दुर्घटना में पायलट सुरक्षित है और जहां विमान गिरा वहां भी किसी तरह को कोई नुकसान नहीं हुआ।
चश्मदीतों के मुताबिक उन्हे आसमान से आग का गोला नीचे आता दिखा जो उनकी खेतों की तरफ गिर रहा था सभी खेतों की तरफ भागे जहां सेना का विमान नीचे गिरा हुआ था लेकिन जब विमान गिरा तो एक बड़ा धमका हुआ जिससे आस पास के खेतों में आग लग गयी जिसे स्थानीय लोगों ने बुझा दिया। घटना के बाद लोगों ने स्थानीय प्रशासन को इसकी सूचना दी और फिर प्रशासन ने पूरा इलाका सील कर दिया। वही घटना के कुछ समय बाद सेना के भी अधिकारी मौके पर पहुंच गये थे। वायु सेना के अधिकारी ने बताया कि पायलट ने सूझबूझ का इस्तेमाल करते हुए खुद की जान बचाई और किसी बड़े हादसे को भी टालने में कामयाब रहा। पायटल को जैसे ही पता चला कि विमान खराब हो चुका है वह उसे खाली इलाके की तरफ ले जाने लगा और अंत समय में खुद को भी बाहर निकालने में सफल रहा।
वैसे यह पहली बार नहीं है इससे पहले भी लड़ाकू विमान मिग के क्रैश होने की खबरे लगातार मिलती रहती है। इससे पहले गोवा में भी मिग विमान हादसे का शिकार हुआ था। सेना के मुताबिक मिग विमान अब पुराना हो चुका है इसलिए इसके दुर्घटनाग्रस्त होने की उम्मीद बढ़ती जा रही है। वायुसेना में लड़ाकू विमान की ट्रेनिंग के लिए सेना आज भी मिग का इस्तेमाल करती है क्योंकि यह बेहद ही हल्का और असरदार विमान है जिसे कम जगह में आसानी से उड़ाया या उतारा जा सकता है।

आपकी प्रतिक्रिया...