यूपी में बस हादसे में 6 मजदूरों की मौत, आखिर कब रुकेगा मजदूरों की मौत का सिलसिला

  • उत्तर प्रदेेश में हुआ बड़ा बस हादसा
  • बस हादसे में 6 मजदूरों की मौत 2 जख्मी
  • पंजाब से बिहार अपने घर जा रहे थे मजदूर
  • नहीं रुक रहा मजदूरों की मौत का सिलसिला
लॉक डाउन को लेकर श्रमिक अपने घरों को जाने को विवश हो चुके हैं लेकिन लगातार वह हादसों के शिकार भी हो रहे हैं। हाल ही में महाराष्ट्र के औरंगाबाद में एक ट्रेन हादसे में 16 मजदूरों की मौत हो गई थी वह भी अपने घरों के लिए निकले थे वही अब उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरपुर नगर में भी एक हादसे सामने आया है जहां छह मजदूरों को अपनी जान गंवानी पड़ी जबकि 2 मजदूर अभी घायल हैं जिनका इलाज जारी है।
पंजाब से चलकर बिहार तक का सफर तय करने का इन सभी मजदूरों ने मन बनाया था घर की चाह ने मजदूरों को पैदल ही चलने पर विवश किया था और इन लोगों ने पंजाब से उत्तर प्रदेश की यात्रा भी पूरी भी कर ली थी लेकिन इनकी किस्मत में इनका घर नहीं लिखा था। यह मजदूर मुजफ्फरनगर कोतवाली के सहारनपुर रोड के पास पहुंचे थे तभी पीछे से आ रही रोडवेज बस ने इनमें से 6 लोगों को कुचल दिया जिन की मौके पर ही मौत हो गई जबकि 2 मजदूर बुरी तरह से घायल हैं जिनका इलाज स्थानीय अस्पताल में चल रहा है।
वहीं इस घटना के बाद खबर मिलते ही पुलिस प्रशासन मौके पर पहुंच गया। सभी शव को पुलिस ने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस के मुताबिक सभी मजदूर बिहार के गोपालगंज जिले के रहने वाले हैं और यह लोग पंजाब से पैदल ही बिहार के लिए जा रहे थे। पुलिस ने आरोपी बस ड्राइवर को भी गिरफ्तार कर लिया है और बस को भी कब्जे में ले लिया है लेकिन अभी तक हादसे की वजह साफ नहीं हो पायी है।
उत्तर प्रदेश में हुआ यह हादसा कोई पहला या दूसरा मामला नहीं है। आजकल ऐसे हादसे हर दिन सामने आ रहे हैं जिसमें मजदूरों की जान जा रही है। कई राज्यों ने मजदूरों को यह सलाह दी है कि वह पैदल घर के लिए ना निकले क्योंकि इससे उनकी जान को खतरा बना रहता है। कुछ राज्य सरकारें अपने मजदूरों के लिए बसों की व्यवस्था कर रही हैं लेकिन मजदूरों को उन राज्यों से कोई खास मदद नहीं मिल रही है जहां पर नौकरी के लिए गए हुए हैं।

आपकी प्रतिक्रिया...