महाराष्ट्र में फिर साधु की हत्या से उठा सरकार पर सवाल ?

  • महाराष्ट्र के नांदेड़ में लिंगायत समाज के साधु की निर्मम हत्या
  • पशुपति महाराज के साथ एक अन्य की भी हुई हत्या
  • राज्य में बढ़ते हत्या को लेकर सरकार हुई चिंचित 
  • पालघर साधुओं की हत्या पर भी उठा था सवाल 
महाराष्ट्र में पिछले कुछ दिनों से साधुओं को निशाना बनाया जा रहा है अलग अलग शहरों से हत्या की खबरें आ रही है। राज्य में बढ़ती साधुओं की हत्या को लेकर राज्य सरकार पर सवालिया निशान खड़े हो रहे है। उद्धव ठाकरे की सरकार में एक बार फिर से दो साधुओं की हत्या कर दी गयी। नांदेड़ में एक साधु की उनके ही आश्रम में हत्या कर दी गयी हालांकि हत्या की वजह नहीं पता चली है लेकिन हत्यारा फरार है जिसकी पुलिस द्वारा जांच जारी है। जानकारी के मुतबिक हत्या के बाद साधु के मृत शरीर को भी ले जाने की कोशिश की गयी लेकिन हत्यारे की कार आश्रम के गेट में फंस गयी जिससे वह अपने मकसद में सफल नहीं हो सका।
 
कैसे हुई साधुओं की हत्या ?
लिंगायत समाज से आने वाले साधु पशुपति महाराज की शनिवार रात करीब 12 से 1 बजे की बीच में हत्या कर दी गयी। पशुपति महाराज जिस घर में सोये थे उसका दरवाजा नहीं टूटा है ना ही दरवाजे पर किसी भी तरह के हमले के निशान है जिससे यह आशय लगाया जा रहा है कि हमलावर पहचान वाला था जिससे पहले पशुपति महाराज से दरवाजा खुलवाया और फिर उनकी हत्या कर दी। हत्या के बाद वह पशुपति महाराज के शव अपनी कार में रखकर बाहर निकल रहा था लेकिन उसी दौरान उसकी कार मेन गेट में फंस गयी और पास में सोये दो सेवादार भी जग गये जिससे हत्यारा पशुपति महाराज का शव छोड़कर भाग गया हालांकि सेवादारों ने कुछ दूर तक उसका पीछा किया लेकिन उसे पककड़ने में नाकाम रहे।
 
लिंगायत समाज का है हत्यारा!
पशुपति के अलावा एक और शख्स की हत्या हुई है। मृतक की पहचान भगवान राम शिंदे के रुप में हुई है। वहीं इन दोनों हत्याओं में राम शिंदे के दोस्त को दोषी माना जा रहा है हालांकि अभी तक इस पर कुछ साफ नहीं हो पाया है। हत्या के बाद पुलिस ने पूरा इलाका सील कर छानबीन शुरु कर दी है। पुलिस ने अलग अलग दल बनाकर हत्यारे की तलाश शुरु कर दी है। महाराष्ट्र में लगातार बढ़ती साधुओं की हत्या अब उद्धव सरकार को कठघरे में खड़ा कर रही है क्योंकि शिवसेना जिन पार्टियों के साथ सरकार चला रहे है उन्होने हमेशा से ही सनातन धर्म का अपमान किया है।

This Post Has One Comment

  1. Anonymous

    देश मे इस प्रकार के हत्यारों का दमन ज़रूरी है।

आपकी प्रतिक्रिया...