फिर से हो सकता था पुलवामा जैसा हमला? सेना ने बरामद की IED से भरी कार

  • जम्मू कश्मीर में सेना ने बड़े आतंकी हमले को किया नाकाम 
  • पुलिस, सीआरपीएफ और सेना के संयुक्त अभियान से मिली बड़ी सफलता
  • आईईडी से भरी कार को सेना ने किया जब्त 
  • आतंकी बम से भरी कार से करने वाले थे बड़ा हमला 
 
फिर से हो सकता था पुलवामा जैसा हमला?
जम्मू कश्मीर में सेना ने एक बड़े आतंकी हमले को नाकाम कर दिया। गुरुवार को सेना ने एक ऐसी कार जब्त की जो आईईडी से भरी थी और आतंकी किसी बड़े हमले की फिराक में इसे लेकर जम्मू कश्मीर के अंदर दाखिल हुए थे। सेना को गुप्त सूत्रों से जानकारी मिली की विस्फोटक पदार्थों से भरी एक कार घाटी में दाखिल हो चुकी है और इसके द्वारा सेना पर हमला करने की कोशिश की जाने वाली है सूचना के बाद सेना और पुलिस के संयुक्त अभियान शुरु किया और एक सेंट्रो कार को जब्त किया जिसमें आईईडी भरा हुआ था। हालांकि चेकिंग के दौरान अंधेरे का फायदा उठाते हुए कार चला रहा आतंकी भागने में सफल रहा लेकिन सेना ने कार को जब्त किया और उसमें रखे बम को भी बम निरोधक दस्ते ने नाकाम कर दिया।
 
IED से भरी थी सेंट्रो कार
सेना द्वारा मिली जानकारी के अनुसार आतंकियों की साजिश फिर से पुलवामा जैसे हमले की योजना थी लेकिन इस बार वह नाकाम हो गये। सूचना के बाद जम्मू कश्मीर पुलिस, सीआरपीएफ और सेना की संयुक्त टीम ने कार की तलाश शरु करी दी और अंत में टीम को पुलवामा के पास शादीपुरा में कार हाथ लग गयी। जानकारी के मुताबिक कार को एक आतंकी चला रहा था जो सेना पर फायरिंग करते हुए भाग निकला। हमले के लिए इस्तेमाल होने वाली सफेद कलर की सेंट्रो कार पर दो पहिया वाहन का नंबर प्लेट लगा हुआ था जो कि कठुआ से रजिस्ट्रेशन कराई गयी है। सेना ने कार को जब्त करने के बाद बम डिस्पोजल यूनिक को बुलाया गया और आस पास के इलाकों को तुरंत खाली करवाया गया। बम डिस्पोजल यूनिट की कड़ी मेहनत के बाद आखिरकार सफलता पूर्वक बम को पूरी तरह से निरस्त कर दिया गया।
 
2019 पुलवामा हमला
फरवरी 2019 में आतंकियों ने आईईडी से भरी एक ऐसी ही कार से सेना पर हमला किया था। आतंकी ने आईईडी से भरी कार को सीआरपीएफ की बस से भिड़ा दिया था जिसके बाद एक जोर का धमाका हुआ और सीआरपीएफ की बस के परखच्चे उड़ गये। पुलवामा के इस आतंकी हमले में करीब 45 जवान शहीद हो गये थे। भारत ने बाद में इसका जोरदार बदला लिया था और आतंकियों के कई ठिकाने नष्ट कर दिये थे।

आपकी प्रतिक्रिया...