आखिर शिवसेना ने सोनू सूद के कार्यों पर क्यों उठाया सवाल? क्या है सोनू का बीजेपी कनेक्शन

  • अभिनेता सोनू सूद के मदद कार्यों पर शिवसेना ने उठाया सवाल
  • संजय राउत ने कहा सूद के पीछे राजनैतिक डायरेक्टर
  • सोनू सूद महात्मा सूद बनने की राह पर चले- राउत
  • बीजेपी को बताया सोनू सूद के पीछे का सपोर्टर
महाराष्ट्र में कोरोना वायरस का कहर अपने चरम पर है यहां हर दिन संक्रमित लोगों की संख्या का एक नया रिकार्ड बनता जा रहा है। प्रवासी मज़दूरों को घर भेजने को लेकर राज्य सरकार लगातार फेल हो रही है और केंद्र और राज्य के बीच राजनीतिक बयानबाज़ी देखने को मिल रही है। इसी बीच प्रवासियों के लिए रील हीरो से रियल हीरो बने सोनू सूद ने हजारों प्रवासियो को उनके घर भेजा। किसी के एक मात्र संदेश पर उसे घर तक पहुंचाने का ज़िम्मा सोनू सूद उठा रहे है। लेकिन इसी बीच शिवसेना की तरफ सोनू सूद के कार्यों को लेकर बयान जारी किया गया है लेकिन यह बयान तरीफ में नहीं बल्कि अच्छे काम के पीछे के मकसद पर सवाल उठाया गया है।
सोनू के पीछे राजनैतिक डायरेक्टर
शिव सेना नेता संजय राउत ने कहा कि सोनू सूद एक अच्छे अभिनेता है और उनकी फिल्में भी काफी दिलचस्प होती है लेकिन इस प्रवासी फिल्म में उनका डायरेक्टर कोई राजनीतिक दल का है। संजय राउत ने साफ शब्दों में कहा कि सोनू के काम के पीछे सीधे तौर पर बीजेपी का हाथ है। हालांकि बीजेपी ने इस सफाई दी और संजय राउत की नियत पर अफसोस जताया और कहा कि खुद की सरकार तो मदद करने में विफल हो रही है और जो मदद कर रहा है उस पर सवाल उठाया जा रहा है।
 
 
सोनू सूद बनेंगे महात्मा सूद
शिवसेना के मुख पत्र सामना में संजय राउत ने सवाल उठाते हुए पूछा कि लॉकडाउन में जहां लोगों के पास खाने के लिए राशन तक उपलब्ध नहीं हो पा रहा है वहां सोनू सूद को कैसे इतनी बड़ी संख्या में बसें मिल जा रही है। इसके पीछे कोई राजनीतिक हाथ जरुर है। संजय राउत ने कहा कि सोनू सूद अब महात्मा सूद बनने की राह पर निकल चुके है। संजय राउत ने कहा कि सोनू सूद जल्द ही प्रधानमंत्री से मुलाकात भी कर सकते है और आगे उन्हे और भी ज़िम्मेदारी सौंपी जा सकती है।
 
मदद से भी शिवसेना को मुश्किल
प्रवासियों की मदद को लेकर अभिनेता सोनू सूद की तारीफ पूरे देश में हो रही है उनके कार्यों से जहां बाकी राज्यों के मुख्यमंत्री उनकी तारीफ कर रहे है वहीं जो भी मज़दूर अपने घर तक पहुंच रहा है वह भी सोनू का धन्यवाद अलग अलग तरह से कर रहा है। अभिनेता सभी के संदेशों का जवाब भी दे रहे है और अभी तक किसी को निराश भी नहीं किया है लेकिन ऐसे भले व्यक्ति की आलोचना करना शिवसेना को कहीं मुश्किल में ना डाल दे।

आपकी प्रतिक्रिया...