भारत को कोरोना पर बड़ी सफलता, संक्रमित के बराबर पहुंचा स्वस्थ्य का आंकड़ा

  • भारत में संक्रमण के साथ रिकवरी में तेजी
  • भारत में संक्रमित लोगों की संख्या 2.5 लाख से अधिक
  • कोरोना से 1.24 लाख मरीज़ हुए स्वस्थ्य
  • महाराष्ट्र में संक्रमित का आंकड़ा पहुंचा 90 हजार
कोरोना वायरस को लेकर भारत में एक तरफ जहां संक्रमण बढ़ रहा है वहीं दूसरी तरफ रिकवरी रेट में भी तेजी से सुधार देखा जा रहा है। वर्तमान में हालात ऐसे हैं कि जितने लोग कोरोना से संक्रमित हैं करीब उतने ही लोग स्वस्थ्य होकर अपने घर जा चुके हैं। देश में कोरोना से संक्रमित और इलाज के बाद ठीक होने वालों की संख्या लगभग बराबर पर है। पूरे देश में कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या करीब 2.5 लाख से अधिक हो चुकी है जिसमें से करीब 1 लाख 24 हजार 981 एक्टिव मामले हैं जबकि 1 लाख 24 हजार 429 लोग अब तक ठीक हो चुके हैं।
स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक अब तक करीब 50 लाख से अधिक लोगों की कोरोना जांच की जा चुकी है जिसमें से 2.5 लाख लोग संक्रमित पाए गए है।
 
 
महाराष्ट्र में 90 हजार पहुंचा आंकड़ा
सबसे ज्यादा संक्रमित राज्यों ने शामिल महाराष्ट्र अभी पहले नंबर पर बना हुआ है। महाराष्ट्र में संक्रमित लोगों की संख्या करीब 90 हजार तक पहुंचने वाली है हालांकि करीब 40 हजार लोगों को इलाज के बाद घर भेज दिया गया है जबकि करीब 3000 लोगों की मौत हो चुकी है। मुंबई में संक्रमित लोगों की संख्या 50 हजार के करीब पहुंच चुकी है जबकि करीब 1700 लोगों की मौत हो चुकी है। पिछले 24 घंटे में महाराष्ट्र में 3 हजार से अधिक संक्रमण का मामला सामने आया है।
बाकी से बेहतर भारत की स्थिति
कोरोना वायरस को लेकर भारत की हालत बाकी देशों की तुलना में काफी बेहतर है। जनसंख्या के लिहाज से पूरे विश्व में दूसरे नंबर पर आने वाला भारत अब भी संक्रमण के मामले में काफी पीछे है जबकि कुछ बड़े देशों की हालत चिंताजनक बनी हुई है। कई देशों ने भारत की इसके लिए तारीफ भी की थी कि वह कोरोना वायरस पर लगाम लगाने में सफल रहा। वहीं भारत सरकार ने अब धीरे-धीरे लॉक डाउन में ढील देनी शुरू कर दी है और लोगों को फिर से बाहर निकलने का मौका मिल रहा है हालांकि इस दौरान कड़े नियमों का पालन सभी को करना होगा। भारत सरकार ने सार्वजनिक यातायात ट्रेन और हवाई जहाज जैसी सुविधाओं को भी खोल दिया है। लॉक डाउन की वजह से भारत को अर्थव्यवस्था में बड़ा नुकसान हो रहा था इसलिए कहीं बेरोज़गारी और भुखमरी ना फैल जाए इसलिए सरकार ने लोगों को बाहर निकलने की इजाज़त दे दी।

आपकी प्रतिक्रिया...