असम में हिंदु युवक की मुस्लिम परिवार ने की गला काट कर हत्या, मुख्यमंत्री ने दिये CID जांच के आदेश

  • असम में एक 26 वर्षीय युवक की चाकू मार कर हत्या
  • हत्या के आरोपी दुलाल, इब्राहिम, हुसैन और अरमान अली, मनुवारा खातून
  • पुलिस ने सभी आरोपियों को किया गिरफ्तार
  • सोशल मीडिया पर हत्या को लेकर हो रहा विरोध
असम के गुवाहाटी में एक हत्या से पूरे देश में सनसनी फैल गयी है। गुवाहाटी के नूनमाटी इलाके में एक 26 वर्षीय हिंदू लड़के रितुपर्णा पेंगू की हत्या कर दी गयी। हत्या करने वाला एक मुस्लिम परिवार है। हत्या के बाद आरोपी दुलाल अली, इब्राहिम अली, मनुवारा खातून, हुसैन अली और अरमान अली को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। रितुपर्णा की हत्या को लेकर पुलिस की तरफ से कोई आधिकारिक बयान अभी तक जारी नहीं किया गया है लेकिन जानकारी के मुताबिक एक फर्नीचर की दुकान जिसका नाम अरमान होम फर्निशिंग है उसमें रितुपर्णा और हुसैन अली की किसी बात को लेकर बहस शुरु हो गयी दोनों के बीच बात बढ़ी और फिर झगड़ा शुरु हो गया। इसी बीच हुसैन ने अपने घर वालों को भी बुला लिया जिसके बाद झगड़े ने बड़ा रुप ले लिया और फिर हुसैन के परिवार वालों ने रितुपर्णा पर चाकू से वार कर उसे घायल कर दिया।
 
 
मुस्लिम परिवार ने ली युवक की जान
स्थानीय लोगों से मिली जानकारी के मुताबिक रितुपर्णा पर चाकू से तब तक वार किया गया जब तक उसकी मौत नही हो गयी। आरोपियों ने चाकू से रितुपर्णा का गला भी काट दिया जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गयी। मौके पर मौजूद लोग यह तमाशा देखते रहे और मौत के बाद भी रितुपर्णा का शरीर सड़क के किनारे पड़ा रहा। इस हत्या में कुल 5 लोग शामिल थे। आरोपी दुलाल अली, इब्राहिम अली, उनकी मां मनुवारा खातून, हुसैन अली और अरमान अली ने रितुपर्णा की हत्या के बाद फरार हो गये।
 
 
हत्या के आरोपी गिरफ्तार
गुवाहाटी पुलिस ने हत्या के बाद सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। गुवाहाटी पुलिस ने उनकी गिरफ्तारी की जानकारी ट्वीटर पर भी साझा की है। पुलिस ने बताया कि आरोपियों के खिलाफ धारा 294/20, 147/148/149, और 302 हत्या के तहत मामला दर्ज किया गया है। पुलिस अभी और जांच कर रही है।

वही हत्या को लेकर यह अभी तक साफ नहीं हो पाया है कि यह मात्र कुछ घंटो की बहस के बाद हत्या कर दी गयी है या फिर यह कोई पुरानी रंजिश का नतीजा है। जानकारी के मुताबिक एक कुर्सी मात्र को लेकर यह बहस शुरु हुई थी और एक मौत पर जा कर शांत हुई। वहीं रितुपर्णा की हत्या के बाद से विरोध भी शुरु हो गया है। मृतक के परिवार वालों ने पुलिस स्टेशन के सामने जानकर धरना प्रदर्शन किया और आरोपियो के खिलाफ शख्त से शख्त सजा की मांग की है।

सोशल मीडिया पर विरोध
वहीं सोशल मीडिया पर लोग इस हत्या को लेकर विरोध कर रहे है और उनका कहना है कि यह हत्या नहीं बल्कि हिंदू के प्रति जलन है। रितुपर्णा पर चाकू से सैंकड़ो बार वार किया गया इससे भी जब आरोपियों का मन नहीं भरा तो उन्होने रितुपर्णा का गला काट दिया।

मुख्यमंत्री ने दिये CID जांच के आदेश
असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने भी इस हत्या पर दुख प्रकट किया। मुख्यमंत्री की तरफ से ऑफिशियल ट्वीट कर बताया गया कि 24 घंटे के अंदर ही इस घटना की सीआईडी CID जांच के आदेश दे दिये है। इस मामले में 5 लोगों को गिरफ्तार भी किया गया है। मुख्यमंत्री की तरफ से यह भी कहा गया कि इस मामले के लिए एक फास्ट ट्रैक तैयार किया जा रहा है जिससे तुरंत इस मामले पर फैसला आ सके।

यह घटना दुकान में लगे सीसीटीवी में कैद हो चुकी है पुलिस ने सीसीटीवी को जब्त कर लिया है और जांच के लिए भेज दिया है। रितुपर्णा की हत्या के बाद बहुत से लोगों ने इसे सोशल मिडिया पर अपलोड कर दिया है और इसका विरोध कर रहे है।

This Post Has 2 Comments

  1. Anonymous

    यह हत्या नहीं बल्कि ISIS का भारतीय संस्करण है, यह हिंदूओं को मार कर, डरा कर असम को इस्लामिक राज्य बनाने का षड्यंत्र है

  2. Anonymous

    The culprit should be punished n hang till death

आपकी प्रतिक्रिया...