भारत का चीन पर सर्जिकल स्ट्राइक, भारत ने बैन किए 59 ऐप

  • भारत-चीन के बीच जारी है सीमा विवाद
  • भारत ने चीन के 59 ऐप को किया बैन
  • भारत सरकार कहा ऐप थे सुरक्षा के लिए खतरा
  • भारत ने चीन के कई प्रोजेक्ट भी किए बंद 
भारत और चीन के बीच जारी सीमा विवाद को लेकर अब दोनों ही देश एक दूसरे को परास्त करने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन इस बार हालात भारत के पक्ष में दिख रहा हैं। भारत हर मुद्दे पर चीन को मुंहतोड़ जवाब दे रहा है। सीमा पर कड़ा प्रहार करने के बाद अब भारत ने चीन पर डिजिटल तौर पर भी कड़ा हमला बोला है। भारत सरकार ने चीन के 59 ऐप को प्रतिबंधित कर दिया जिनका भारत में बड़े पैमाने पर इस्तेमाल किया जाता था। भारत सरकार की तरफ से कहा गया कि यह ऐप भारत की राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा है।

केंद्रीय सूचना प्रसारण मंत्रालय की तरफ से यह जानकारी दी गई कि जिन 59 ऐप को बंद किया गया है उनके खिलाफ पहले से शिकायतें मिल रही थी और आरोप लगाया जा रहा था कि इस ऐप के माध्यम से चीनी कंपनियां लोगों के डाटा चोरी कर रही हैं। रिपोर्ट में दावा किया गया है कि यह सारे ऐप लोगों के डाटा को चुराकर उन्हें भारत से बाहर सरवर पर भेजा जाता है। पिछले कुछ दिनों में चाइना ने अपने प्रोडक्ट और ऐप को भारत में तेजी से फैलाया है और भारत के लोगों ने इसे बहुत जल्दी ही स्वीकार भी कर लिया था। चाइनीस ऐप टिकटॉक इस समय सबसे ज्यादा चर्चा में था। इस ऐप के माध्यम से लोग वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर अपलोड करते थे।

आईटी मंत्रालय ने अपने बयान में कहा कि हम ऐसे किसी भी ऐप को भारत में नहीं चलने देंगे जिससे देश की राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरा होगा। मंत्रालय ने आईटी कानून की धारा 69ए के तहत  इन सभी चाइनीस ऐप पर रोक लगा दी है। सरकार के इस फैसले से जहां एक तरफ दुश्मन चीन को बड़ा झटका लगा है तो वहीं दूसरी तरफ भारत में लोगों में एक नई आस जगी है कि अब ऐसे ज़रूरतमंद ऐप के लिए भारत खुद से इसका निर्माण करेगा और लोगों को किसी दूसरे पर आश्रित नहीं रहना होगा।
भारत सरकार की तरफ से सीमा विवाद के बाद लगातार चीन से जुड़े प्रोजेक्ट को भी रोका जा रहा है जिसकी वजह से अब तक चीन को कई हजार करोड़ का नुकसान हो चुका है। भारत के अलग-अलग राज्यों में भारत और चीन के बीच हुए कई करार भी रद्द कर दिया गया हैं साथ ही एक बार और भारत की तरफ से डिजिटल सर्जिकल स्ट्राइक चीन पर किया गया है जो चीन की डिजिटल दुनिया में एक बड़ी तबाही मचा कर रख देगा।

This Post Has One Comment

  1. मनोज कुशवाहा

    राष्ट्रहित में निर्णय

आपकी प्रतिक्रिया...