उत्तर प्रदेश में फिर से लगा लॉकडाउन

  • उत्तर प्रदेश सरकार फिर से करेगी लॉकडाउन
  • 10 जुलाई से 13 जुलाई तक रहेगा पूरे राज्य में लॉकडाउन
  •  32 हजार से अधिक हुआ संक्रमित लोगों का आकड़ा
  • लॉकडाउन के दौरान खुले रहेंगी जरुरी दुकान और कारखाने
     
     
  • यूपी में 10 से 13 जुलाई तक रहेगा लॉकडाउन
    कोरोना वायरस का कहर लगातार बढ़ता ही जा रहा है पूरे देश के साथ उत्तर प्रदेश में भी कोरोना का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है हर दिन करीब एक हजार से अधिक मामले सामने आ रहे है जिसको देखते हुए योगी सरकार ने राज्य में फिर से लॉकडाउन लगाने का फैसला किया है। राज्य के प्रमुख सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने जानकारी देते हुए बताया कि सरकार ने 10 जुलाई रात 10 बजे से 13 जुलाई सुबह 5 बजे तक के लिए पूर्ण लॉकडाउन का फैसला किया है। इस दौरान जरूरी सेवाओं जैसे अस्पताल, राशन की दुकान और इन सब पर काम करने वालों को बाहर निकलने की छूट दी जायेगी। ग्रामीण क्षेत्र के औद्योगिक कारखाने खुले रहेंगे और शहरी क्षेत्र के भी जरूरी कारखाने खुले रहेंगे। 
     
    कोरोना के साथ साथ फैल रहा अन्य संक्रमण
    राज्य में लगातार बढ़ते संक्रमण को देखते हुए सरकार की तरफ से यह फैसला लिया गया है इसके साथ ही राज्य में बारिश की वजह से और भी कई संक्रमण फैल रहे है जिसको लेकर राज्य सरकार ने चिंता व्यक्त की है। सरकार की तरफ से यह कहा गया कि राज्य में कोरोना के साथ साथ मलेरिया और डेंगू का भी संक्रमण फैल रहा है जिसको रोकने के लिए राज्य में लॉकडाउन लगाना जरूरी है। लॉकडाउन के दौरान शहर और गांव सभी जगह के बाजार, सब्जी मार्केट, ऑफिस, गल्ला मंडी और व्यावसायिक दुकाने बंद रहेगी। लॉकडाउन के दौरान ट्रेन सेवा पहले की तरह ही चलती रहेगी और यात्रियों के लिए राज्य सरकार की तरफ से बस सेवा मुहैया करायी जायेगी। 
     
     राज्य में संक्रमण भी तेजी से फैल रहा है और अब तक कुल संक्रमित लोगों की संख्या 32 हजार से पार चली गयी है। नोयडा, गाज़ियाबाद और आगरा शहर के हालात चिंताजनक बने हुए है सबसे ज्यादा केस इन्ही शहरों से आ रहे है जिसके बाद सरकार ने इस पर रोक लगाने के लिए लॉकडाउन का कदम उठाया है।

आपकी प्रतिक्रिया...