चीन की अर्थव्यवस्था पर भारत की कड़ी चोट, बैन हुए 47 चीनी ऐप

  • चीनी ऐप को भारत ने फिर किया बैन
  • चीनी अर्थव्यवस्था को भारत से बड़ा झटका
  • भारत ने फिर बैन किए 47 चीनी ऐप
  • सीमा पर भी भारत की कड़ी चुनौती
भारत ने 47 चीनी ऐप किए बंद
भारत सरकार की तरफ से एक बार फिर चीन को बड़ा झटका दिया गया है सीमा के साथ साथ भारत का डिजिटल हमला जारी है। भारत ने एक बार फिर से चीनी ऐप पर बैन लगा चीन को आर्थिक तौर पर झटका दिया है। भारत दुनिया में चीन के बाद दूसरी सबसे बड़ी जनसंख्या वाला देश है जहां लोग ऐप का इस्तेमाल बड़ी संख्या में करते है ऐसे में चीन के ऐप को बैन करने से चीनी कंपनियों को बड़ा नुकसान हो रहा है। भारत सरकार ने चीन के कुल 47 ऐप को फिर से बैन किया और उन्हे जल्द ही प्ले स्टोर से भी निकाल दिया जायेगा। इससे पहले भारत सरकार की तरफ से 59 ऐप और भी बैन किये जा चुके है जिसमें सबसे चर्चित टिक टॉक था और भारत में उसका काफी  बड़े स्तर पर इस्तेमाल किया जाता था। 
 
चीन के कुल 106 ऐप हुए बैन
भारत सरकार की तरफ से जिन 47 ऐप को बैन किया गया है उसमें ज्यादातर क्लोन वाले ऐप थे जिसकी वजह से लोगों की जानकारियाँ असुरक्षित थी। सरकार के मुताबिक उन सभी ऐप को जल्द से जल्द बैन किया जायेगा जिनके खिलाफ पहले से ही शिकायतें दर्ज है या फिर उनको लेकर सुरक्षा एजेंसियाँ सवाल उठा रही है। भारत सरकार की तरफ से अब तक कुल 106 चीनी ऐप को बंद किया जा चुका है जबकि जानकारी के मुताबिक 275 ऐप की एक लिस्ट सरकार के पास है जिस पर बैन लगाने की तैयारी चल रही है इसमें कई सारे गेम वाले ऐप भी है जिसके जरिए जानकारियाँ चीन तक पहुँचाई जा रही है। सरकार के मुताबिक भारत में वर्तमान में करीब सभी घरों में स्मार्ट फोन है लेकिन सही जानकारी ना होने की वजह से लोग अपनी निजी जानकारी इन ऐप के साथ शेयर कर रहे है जिससे उनकी जानकारी दूसरे देशों तक पहुंच जा रही है। 
 
चीन के लिए भारत में व्यापार भी मुश्किल
भारत-चीन के बीच सीमा पर जारी विवाद के बाद से दोनों की देशों के बीच दुश्मनी बढ़ चुकी है जिसके बाद से भारत हर मोर्चे पर चीन को सबक सिखाने में जुटा हुआ है। भारत ने सीमा पर हिंसक विवाद के बाद से सेना और हथियार दोनों ही तैनात कर दिया है इसके साथ ही चीन से जारी व्यापार पर भी अलग अलग तरह से रोक लगा रही है जिससे चीनी अर्थव्यवस्था को सीधे तौर पर नुकसान हो रहा है। सरकार ने पड़ोसी देशों के लिए कुछ नये नियम भी लागू कर दिये है जिससे अब कोई भी देश सीधे तौर पर किसी सरकारी ठेके में भाग नहीं ले सकता है। नये नियम के तहत पड़ोसी देशों को पहले सक्षम अथॉरिटी में अपना पंजीकरण करवाना होगा जिसके बाद वह भारत के किसी भी ठेके में हिस्सेदारी ले सकते है। 
 
ऐप पर भारत की कड़ी नजर
खबरों की मानें तो सरकार ऐप को लेकर नये नियम बना रही है जिससे किसी भी ऐप को शुरु करने से पहले उन नियमों का पालन करना होगा। सरकार के मुताबिक नये नियमों के तहत यह साफ होगा कि कोई भी अपनी निजी जानकारी को कितना ऐप के साथ साझा कर सकता है। भारत में बने ऐप के लिए एक विशेष कोड भी तैयार किया जा रहा है जिससे आप यह सुनिश्चित कर पायेंगे कि आप का ऐप कितना सुरक्षित है। 

आपकी प्रतिक्रिया...