मनोरंजन के खूनी खेल का शिकार -जुलाई २०२० सप्ताह पांचवा

हिंदी विवेक के इस अंक में बोलीवुड के अपराधीकरण पर आवरण कथा प्रकाशित की गई है. मनोरंजन के खुनी खेल का शिकार, सुशांत सिंह की हत्या या आत्महत्या ?, बोलीवुड में माफियाराज, दादागिरी, अंडरवर्ल्ड, भाई भतीजावाद, परिवारवाद, खान गैंग, दुबई गैंग, फिल्मों में बढती अभारतीयता और इस्लामिक प्रभाव, कलात्मक स्वतंत्रता या बदनाम करने का षड्यंत्र, वेब सीरिज से परोसी जा रही अश्लीलता, बोलीवुड का शुद्धिकरण जरुरी आदि महत्वपूर्ण विषयों पर प्रकाश डाला गया है. भाजपा सांसद सुब्रह्मण्यम स्वामी का साक्षात्कार सहित भारतीय संस्कृति का विजयनाद, राष्ट्रउद्धारक संपादक व नेता लोकमान्य तिलक, श्रीरामचरितमानसकार गोस्वामी तुलसीदास, एवं संन्यासी राजनीतिज्ञ हशु आडवाणी तथा कहानी, फिल्म आदि विषय वस्तु इस अंक में आकर्षण का केंद्र है. जागरूकता के दृष्टी से यह अंक पाठकों को बहुत पसंद आएगा. अपनी प्रतिक्रिया देना न भूले.

आपकी प्रतिक्रिया...